इंदौर में पुलिस ने चलाया गुंडा अभियान, भरी बारिश में शराब दुकानों पर चैकिंग, 500 से ज्यादा बदमाश हिरासत में

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर के शराब सिंडिकेट गोली कांड के बाद अब खाकी अपने रंग में आ चुकी है। दरअसल, शहर में बढ़ते अपराधों और शराब माफियाओं के गुर्गों की तलाश में पुलिस ने भरी बरसात में मयखानों की ओर रुख किया। पुलिस के आला अधिकारियों से मिले निर्देश के बाद शहर भर में पुलिस ने अलग-अलग अहातों में अचानक दबिश दी और बदमाशों की धरपकड़ की।

राज कुंद्रा का इंदौर कनेक्शन, यहां बनी थी एक दर्जन से ज्यादा पॉर्न फिल्में! करोड़ों में हुई थी डील

पुलिस की अचानक दबिश से बदमाशों में घबराहट पैदा हो गई। वहीं ये जानकारी भी सामने आई है कि कई स्थानों पर तो शराब दुकानों से मारे डर के बदमाश रफूचक्कर हो गए। शनिवार को इंदौर में पुलिस द्वारा चलाया गया औचक गुंडा अभियान बदमाशों के लिये मुसीबत बन गया। पुलिस की अलग अलग टीमो ने शराब दुकानों पर चेकिंग अभियान चलाया। 170 शराब दुकान के अहातों में दी गई दबिश के दौरान 500 से भी अधिक गुंडा तत्वों को पुलिस ने हिरासत में लिया। अब सभी बदमाशों के रिकॉर्ड खंगाले जा रहे हैं। बड़े पैमाने पर चलाये गए अभियान से अब शहर के बदमाशों में भय का माहौल बन गया है जो एक तरह से कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए जरूरी भी है। हालांकि पुलिस को बदमाशों के हौंसले पस्त करना है तो इसी तरह की कार्रवाई समय-समय पर की जानी चाहिये। इतना ही नहीं, पुलिस ने शराब दुकान और आहतों पर काम करने वाले कर्मचारियों पर भी नकेल कसते हुए उनके आपराधिक रिकार्ड खंगाले जा रहे हैं। फिलहाल, पुलिस की ये व्यापक कार्रवाई शराब कारोबारी अर्जुन ठाकुर पर चलाई गई गोली के परिणाम के रूप में नजर आ रही है।