इंदौर में तीन तिगाड़ा और शांति को किसने बिगाड़ा ? बड़े सवाल के बीच बीजेपी विधायक का बड़ा बयान !

डॉ. मुमताज कुरैशी जिला अध्यक्ष सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने असमाजिक तत्वों पर कार्रवाई के लिए डीआईजी से मांग कर ज्ञापन सौंपा है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) को यूं तो प्रदेश की आर्थिक, धार्मिक और सामाजिक राजधानी कहा जाता है। लेकिन अगस्त माह में तीन ऐसे अनापेक्षित विवाद उभरकर सामने आए है। जिसके बाद हंगामा धार्मिकता को लेकर उठ खड़ा हुआ है। और इस बीच बीजेपी विधायक मालिनी गौड़ (BJP MLA Malini Gaur) का एक बड़ा बयान भी सामने आया है।

यह भी पढ़ें…Indore News: सब्जी व्यापारी हत्या मामला, पुलिस को मिली सफलता

बीजेपी विधायक मालिनी गौड़ ने तीनों मामलो कि निंदा करते हुए दोषियों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है। पूर्व महापौर और विधायक मालिनी गौड़ ने मीडिया से बात कर स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में युवती से बदसलूकी के मामले कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि भारत में रहने वालों को भारत माता की जय, वंदे मातरम बोलना पड़ेगा और जिन लोगो को इन नारों से परेशानी है उन्हें बीजेपी संगठन पार्टी से बाहर करे। दरअसल, 15 अगस्त राजबाड़ा एक युवती पर वर्ग विशेष के युवकों ने तंज कसकर उसे मंच से उतारा था जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है। बस इसी बात से नाराज बीजेपी विधायक ने कहा कि भारत मे रहकर जय और वंदे मातरम बोलना पड़ेगा नही तो ऐसे लोगो को देश से बाहर का रास्ता निकाल देना चाहिये।

दरअसल, सिलसिलेवार घटनाओं को देखा और समझा जाये तो ये बात सामने आ रही है कि पुलिस और प्रशासन को शहर में धीमे धीमे फैल रही सांप्रदायिक अशांति को शांति में तब्दील करने के प्रयास में जुटना होगा। बता दे कि 13 अगस्त को जहां शहर के बंबई बाजार में एक घटनाक्रम सामने आया था जिसके बाद वाल्मीकि समाज द्वारा मुस्लिम बहुल क्षेत्र में साफ सफाई नहीं करने का निर्णय लिया गया। इसके बाद 15 अगस्त को शहर के पत्थर मुंडला (नायता मुंडला) क्षेत्र में झंडावंदन के बाद के हुई नारेबाजी से विवाद उपजा जिसे पुलिस ने बड़ी तेजी से संभाला लेकिन सोशल मीडिया पर शहर के ह्र्दयस्थल राजबाड़ा क्षेत्र से 15 अगस्त के एक मामले का वीडियो वायरल हो रहा है। जिसके बाद दोनों ही प्रमुख धर्मो के लोगो को अब ये चिंता सता रही है कि कहीं शहर में अमन और चेन का माहौल बिगड़ न जाये।

लिहाजा बुधवार सुबह सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया और पापुलर फ्रंट ऑफ इंडिया के कार्यकर्ताओं ने डीआईजी के नाम ज्ञापन सौंपकर साम्प्रदायिक विवाद को बढ़ावा देने वालो की गिरफ्तारी की मांग की है। डॉ. मुमताज कुरैशी जिला अध्यक्ष सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ने असमाजिक तत्वों पर कार्रवाई के लिए डीआईजी से मांग कर ज्ञापन सौंपा है।

फिलहाल, इंदौर पुलिस व प्रशासन हर छोटी छोटी से बातो पर कड़ी नजर रख रहा है और तीनो मामलों के हर पहलू पर नजर रखने वाले पुलिस प्रशासन से लोगो को उम्मीद है कि वो शहर में शांति व्यवस्था को कायम रखने में कामयाब रहेगी।

यह भी पढ़ें…Jabalpur News : पहले पुलिस पर भड़के विधायक विनय सक्सेना, फिर इस वजह से खुद कटवाया अपने समर्थक का चालान