हिस्ट्रीशीटर हत्याकांड मामले में इंदौर क्राइम ब्रांच ने दो लोगों को किया गिरफ्तार

पकड़े गए दोनों आरोपी से पुलिस हत्या करने वाले शानू सागर सहित अन्य आरोपियों के बारे मे पूछताछ कर रही है।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। इंदौर (indore) के हीरानगर थाना क्षेत्र में पिछले दिनों हुए हत्याकांड में इंदौर क्राइम ब्रांच ने आरोपियों को संरक्षण देने और इंदौर से भगाने में शामिल दो लोगो को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए दोनों आरोपियों से पुलिस, हत्याकांड के फरार आरोपियों के बारे में पूछताछ कर रही है। दरअसल, इंदौर के हीरानगर थाना क्षेत्र में पिछले दिनों अनिल दीक्षित नाम के हिस्ट्रीशीटर बदमाश की चार से पांच लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

यह भी पढ़े…अधिकारी ने बताया विभाग के कर्मचारियों को पागल, पगलखाने में ईलाज करवाने की रखी मांग, जानें पूरा मामला

इधर, हत्याकांड के बाद सकते में आये पुलिस कमिश्नर हरिनारायणचारि मिश्र ने हत्या करने वाले आरोपियों पर पहले दस हजार का इनाम घोषित किया था, और बाद में इनाम की राशि बढ़ाकर तीस हजार रुपये कर दी गई। इधर, इंदौर क्राइम ब्रांच ने हत्या करने वालो की मदद करने और आरोपियों को भगाने में मदद करने वाले बिट्टू गौड़ और एक अन्य आरोपी को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए दोनों आरोपी से पुलिस हत्या करने वाले शानू सागर सहित अन्य आरोपियों के बारे मे पूछताछ कर रही है।

हिस्ट्रीशीटर हत्याकांड मामले में इंदौर क्राइम ब्रांच ने दो लोगों को किया गिरफ्तार

यह भी पढ़े…MP मेडिकल यूनिवर्सिटी का कारनामा, फिजियोथेरेपी रिजल्ट में एक ही रोल नंबर को किया कई बार जारी

बताया जा रहा है कि हत्या के कथित आरोपी शानू सागर ने बिट्टू गौड़ की फेस बुक आईडी से अनिल दीक्षित की हत्या के मुख्य गवाह जितेन्द्र यादव को धमकी दी थी जिसके बाद मामले में हत्या करने वाले आरोपियो की मदद करने वालो को गिरफ्तार किया गया है। क्राइम ब्रांच के डीसीपी निमिष अग्रवाल की माने तो सहयोगी आरोपियों पर पुलिस कार्रवाई कर रही है और जल्द ही मुख्य आरोपी तक पुलिस पहुंच जाएगी।