Indore: डॉक्टर की नाराजगी, कहा- मिलनी चाहिए स्वास्थ्य टीम को प्राथमिकता

इंदौर।

मध्यप्रदेश के मिनी मुंबई कहे जाने वाले शहर इंदौर में तेजी से कोरोना वायरस के संक्रमण फैल रहे हैं। जहां संक्रमितों से सेवा में दिन रात लगे डॉक्टर्स, नर्सेज एवं स्वास्थ्य कर्मियों पर संक्रमण का खतरा बढ़ने लगा है। इसी बीच इंदौर में 2 डॉक्टरों की इस संक्रमण में आने से मौत भी हो चुकी है। लेकिन इसके बावजूद बीमार डॉक्टरों के सैंपलों की जांच में हो रही देरी के बीच इंदौर के एक डॉक्टर ने नाराजगी जाहिर की है।

दरअसल शनिवार को इंदौर के डॉक्टर का वीडियो सोशल मीडिया पर बहुत वायरल हो रहा है। देश में इंदौर के डॉक्टर योगेश शाह ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा है कि हम लोग तत्परता से दिन रात संक्रमतों के इलाज में लगे रहते हैं। जहां डॉक्टरों पर भी संक्रमण का खतरा तेजी से फैल रहा है। ऐसे में हमारी जांच की रिपोर्ट में लगातार देरी हो रही है। इंदौर के विशेष अस्पताल मैं कार्यरत डॉ योगेश में कोरोना संक्रमण के लक्षण दिखाई दिए। जिसके बाद 8 मार्च को उनके सैंपल लिए गए थे। माना जाता है कि सैंपल जांच का काम 3 दिन में पूरा हो जाता है किंतु डॉक्टर की रिपोर्ट अभी तक सामने नहीं आई है। जैसे नाराज डॉक्टर ने एक वीडियो जारी करते हुए कहा कि करुणा योद्धाओं के साथ ही व्यवहार किया जाएगा तो फिर कौन अपनी जान जोखिम में डालकर काम करेगा।

डॉक्टर योगेश शाह ने कहा है कि कम से कम कोरोना का इलाज कर रहे टीम को प्राथमिकता दी जानी चाहिए और उनकी रिपोर्ट जल्दी मिलनी चाहिए। हालांकि इसके तुरंत बाद इंदौर डॉक्टर ने एक और वीडियो में कहा कि हम सभी तत्परता से मरीजों के इलाज में लगे हुए हैं। यह हमारा कर्तव्य है और हम उसका निर्वहन करते रहेंगे। बता दें कि इससे पहले इंदौर के 2 डॉक्टर इस महामारी की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं। वही इंदौर के कई स्वास्थ्य कर्मी भी इस वायरस के संक्रमण में आ गए हैं।