इंदौर : ड्रग पैडलर फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र मामला, आरोपी माँ को पुलिस ने किया कोर्ट में पेश

 

इंदौर, आकाश धौलपुरे।  लंबे समय से कानून की आंखों में धूल झोंकने की साजिश के मामले में एक दिन पहले जहां अलीरजपुर न्यायालय के लिपिक आजाद जैन को सहआरोपी बनाया और इंदौर जिला कोर्ट ने उसे जेल भेज दिया था।
वही सजायाफ्ता ड्रग पैडलर अभिषेक जैन के फ़र्जी मृत्यु प्रमाण पत्र पेश करने वाली फरार आरोपी की माँ सीमा पति आजाद जैन को एम.जी.रोड पुलिस ने मंगलवार की जिला कोर्ट में पेश किया। वही इंदौर जिला कोर्ट द्वारा सीमा जैन को लेकर 15 दिन की रिमांड पर सौंपने के आदेश दिए है। बताया जा रहा है कि आरोपी आजाद जैन की अग्रिम जमानत की याचिका उच्च न्यायालय ने खारिज कर दी थी और सह आरोपी पति को कानून की आंखों में धूल झोंकने की साजिश को लेकरर अलीराजपुर जिला कोर्ट को कार्यवाही करने के निर्देश दिए है।
दरअसल, फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र पेश करने के मामले में तीन माह से फ़रार अलीराजपुर निवासी सीमा जैन को एम.जी.रोड पुलिस ने कोर्ट में पेश कर 15 दिन की रिमांड की मांग की थी जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है।
बताया जा रहा है कि सीमा आजाद जैन निवासी (अलिराजपुर) एम.जी.रोड़ पुलिस को तीन माह से चकमा दे रही है क्योंकि पति आजाद जैन जो कि अलिराजपुर न्यायालय ने सेवाकर्मी है । जिनकी मदद से सीमा फ़रारी लाभ ले रही थी। एम.जी.रोड़ पुलिस की टीम पांच बार छापा मार कार्यवाही को अंजाम दे चुकी है लेकिन सीमा जैन पुलिस को चकमा देकर हर बार फ़रार हो जाती है। जिसके बाद एम.जी. रोड़ पुलिस ने कॉल डिटेल के आधार पर फ़रार सीमा जैन को सोमवार को गिरफ्तार किया था। एडवोकेट राजेश जोशी ने बताया आरोपी ने ड्रग पैडलर मामले में आरोपी बेटे अभिषेक जैन का फर्जी मृत्यु प्रमाण पत्र पेश किया था जिसके बाद अभिषेक जैन मध्यप्रदेश के बाहर फरारी काट रहा था। वही जब इंटलीजेंस को जानकारी लगी तो पूरे मामले का खुलासा हुआ और कोर्ट में झूठा मृत्यु प्रमाण पत्र पेश करने वाली आरोपी माँ के खिलाफ एम.जी.रोड़ थाने में प्रकरण दर्ज किया गया था जिसके बाद से ही आरोपी फरार थी।