indore-fire-in-indores-samrat-hotel-people-stuck-in-building

इंदौर।

मध्यप्रदेश के इंदौर शहर में देर रात एक होटल में आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि उसका धुआं पूरे कमरों में फैल गया और पूरे होटल में अफरा-तफरी मच गई।कुछ युवक दूसरी मंजिल के खिड़की के कांच तोड़ पहली मंजिल पर कूद पड़े। इनमें एक घायल हो गया।हालांकि सूचना मिलते ही थोड़ी देर में  फायर ब्रिगेड पहुंची और लोगों को नीचे उतारा। इसके बादसीएसपी बीपीएस परिहार, तुकोगंज टीआई तहजीब काजी आदि भी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों को बाहर निकाला। बताया जा रहा है कि आग शार्ट सर्किट के चलते लग गई थी।लोगों की चीख सुनकर राहगीरों ने पुलिस और फायर ब्रिगेड को कॉल किया। पुलिस होटल प्रबंधन की लापरवाही की जांच कर रही है।

जानकारी के अनुसार, गुरुवार देर रात इंदौर के एमजी रोड स्थित होटल सम्राट में अचानक आग लग गई। आग इतनी भीषण थी कि इससे निकलता हुआ धुआँहोटल की चार मंजिल के सभी कमरों में फ़ैल गया। धुंआ देख लोगों में अफरा-तफरी मच गई  और बाहर तक शोर सुनाई देने लगा।   फायर बिग्रेड पहुंचती इसके पहले ही कुछ युवक दूसरी मंजिल के खिड़की के कांच तोड़ पहली मंजिल पर कूद पड़े। इनमें एक घायल हो गया। बाद में सात को फायर ब्रिगेड ने सीढ़ियां लगाकर उतारा। बाकी 26 लोगों को अंदर से लाया गया। सुचना मिलते ही पुलिस व फायर ब्रिगेड की टीम खिड़कियों के कांच फोड़ होटल में दाखिल हुई और लोगों को निकाला ।धुएं में दम घुटने से दो वृद्धाएं घायल हो गईं, वहीं दो लोग कांच टूटने से जख्मी हो गए। लोगों ने होटल प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगाया। उन्होंने होटल संचालक की पत्नी को घेर लिया और खरीखोटी सुनाई।

पांचवीं मंजिल पर रूम नंबर 561 में एक वृद्ध दंपती ठहरे थे। फायर मास्क पहने फायर ब्रिगेड कर्मचारी ने कमरे का दरवाजा खटखटाकर उन्हें जगाया। इसके बाद बेड शीट और तकिए का कवर फाड़कर उसे गीला किया और दंपती के मुंह पर लपेटकर नीचे सुरक्षित लेकर आए। धुएं के कारण कई लोगों को सांस लेने में तकलीफ हुई।तुकोगंज टीआई ने कुछ लोगों को बचाने के लिए खिड़कियों के कांच तोड़े, जिसमें वे घायल हो गए। घटना के कारण एमजी रोड का ट्रैफिक कुछ समय के लिए डायवर्ट करना पड़ा। कुछ लोगों का आरोप है कि आग लगने के बाद 45 मिनट तक होटल स्टाफ ने हमें कुछ बताया ही नहीं। बाद में कर्मचारी बाल्टी में पानी लेकर आग बुझाते दिखे तो हमने फायर ब्रिगेड को सूचना दी।हालांकि झारखंड के अनुरंजन कुमार आग की खबर सुनकर और धुआं देखकर दूसरी मंजिल की बालकनी से पहली मंजिल पर कूद गए। उसे उनके हाथ-पैर में चोट आई। इस दौरान टीआई काजी भी घायल हो गए। कांच फोड़ने के दौरान टीआई के दोनों हाथों में चोट लग गई।