Indore में कोरोना ने तोड़ी ऐतिहासिक परंपरा, नहीं निकली ऐतिहासिक गैर

इंदौर में रंग पंचमी (Rang Panchami) पर निकलने वाली ऐतिहासिक गैर (Traditional holi Gair) नहीं निकली। 75 साल में ऐसा दूसरी बार हुआ है कि जब रंग पंचमी पर गैर नहीं निकाली गई।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना (Corona) के काले साये में 75 साल से चली आ रही गैर की परंपरागत दूसरी बार टूट गई। कोरोना के लगातार बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इस बार भी रंगों का त्यौहार फीका पड़ गया। कोरोना संकट के बीच इस बार वैक्सीनेशन महोत्सव (Vaccination Festival) की शुरुआत की गई। वही इसके साथ ही पंचमी के महापर्व पर कोरोना का इम्पैक्ट साफ तौर पर देखने को मिला है। इसी के चलते इंदौर में रंग पंचमी (Rang Panchami) पर निकलने वाली ऐतिहासिक गैर (Traditional holi Gair) नहीं निकली। 75 साल में ऐसा दूसरी बार हुआ है कि जब रंग पंचमी पर गैर नहीं निकाली गई।

यह भी पढ़ें….Dewas में कोरोना से बिगड़े हालात, संक्रमितो की संख्या हुई 200 पार, आज 1 और मौत

यह तस्वीर कोरोना काल से पहले की है जिसमें साफ देखा जा सकता है कि किस तरह इंदौर में धूमधाम से हजारों की संख्या में लोग उपस्थित होकर गैर का आनंद लेते थे।

Indore में कोरोना ने तोड़ी ऐतिहासिक परंपरा, नहीं निकली ऐतिहासिक गैर

वहीं दूसरी तरफ ये सुनसान पड़ी सड़कों कि आज रंग पंचमी 2021 की तस्वीर है, जिसमें एक परिंदा भी आपको नहीं दिखेगा ।

Indore में कोरोना ने तोड़ी ऐतिहासिक परंपरा, नहीं निकली ऐतिहासिक गैर

बतादें कि इंदौर जिला प्रशासन ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए यह निर्देश जारी किए थे कि रंग पंचमी पर बेवजह बाहर घूमने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। डीआईजी मनीष कपूरिया का कहना है कि शहर वासियों ने आदेशों का पालन करके बहुत अच्छा किया है । कोविड प्रोटोकॉल के जो निर्देश प्रशासन द्वारा दिए गए थे वह नागरिकों द्वारा उनका अनुपालन किया गया। डीआईजी का कहना है की निर्देशों के पालन करने से हम बढ़ते संक्रमण को रोकने में कामयाबी हासिल कर सकते है। वहीं वैक्सिनेशन महोत्सव पर उन्होंने कहा कि हमने 50 हजार का टारगेट रखा है जिसको पूरा करने की हम पूरी कोशिश करेंगे ।

यह भी पढ़ें…. Indore News : ट्रैफिक से निजात पाने इंदौर में चलेगी Cable Car