इंदौर को मिली बड़ी राहत, फल-सब्जी और किराना दुकानें खोलने की अनुमति

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना बढ़ते असर के बीच बड़ी खबर ये है कि मध्यप्रदेश में कोरोना के एपिसेंटर बन चुके इंदौर के लोगो को कोरोना कर्फ्यू के बीच राहत मिली है। लोगों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने फल, सब्जी और किराना दुकानें खोलने की अनुमति दी है। कोविड नियमों के पालन के साथ अब ये दुकानें सुबह 6 से शाम 4 बजे तक खोली जा सकेंगी।

ये भी देखिये – कोरोना को लेकर चिंतित मप्र सरकार, मुख्यमंत्री राहत कोष से जिलों को 52 करोड़ जारी

14 अप्रैल बुधवार से शहरवासियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए जिला प्रशासन ने नरम रुख अख्तियार किया है। दरअसल, इंदौर मनीष सिंह द्वारा दो दिन पहले ही जिले में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को देखते हुए धारा 144 लागू कर प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किये थे। अब जनसुविधा को ध्यान में रख कुछ गतिविधियों में छूट दी जा रही है। मंगलवार को जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए आदेश के मुताबिक 14 अप्रैल बुधवार से फल-सब्जी के चलित ठेलों, फल-सब्जी की स्थाई दुकान, किराना/ग्रोसरी (डी-मार्ट, बिग-बाजार आदि सहित) दुकानें सुबह 6 बजे से शाम 4 बजे तक संचालित की जा सकेंगी। वहीं दूध वितरण को लेकर भी प्रशासन ने ढील दी है। बुधवार से कल से डेयरी सुबह 6 बजे से शाम 7 बजे तक खुली रह सकेंगी। जिला प्रशासन द्वारा लिए गए इस फैसले के बाद जहां एक ओर विक्रेताओं में खुशी का माहौल है वहीं दूसरी ओर स्वेच्छा से लॉक डाउन का पालन कर रहे लोगों को भी राहत मिली है।

इंदौर को मिली बड़ी राहत, फल-सब्जी और किराना दुकानें खोलने की अनुमति