Indore-health-minister-vvisit

इंदौर. बच्चो में जानलेवा बीमारू खसरा और रूबेला से बचाने के लिए देशभर में 15 जनवरी से 15 फरवरी तक एक अभियान के तहत टीकाकरण का कार्यक्रम चलाया जा रहा है जिसके तहत 9 माह से से 15 साल के बच्चों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही ताकि हर एक बच्चा भविष्य में इन खतरनाक बीमारियों से बच सके। इंदौर में भी इसी के तहत मध्यप्रदेश की कांग्रेस सरकार के स्वास्थ्य मंत्री तुलसीराम सिलावट ने निजी स्कूलों से लेकर सार्वजिनक स्थानों और सरकारी स्कूलों में एक मिशन के तहत काम शुरू कर दिया है।  बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने विद्यासागर स्कूल में खसरा रूबेला टीकाकरण का शुभारंभ किया इस दौरान बड़ी संख्या में विभाग के अधिकारी मौजूद रहे यह टीका कई गंभीर बीमारियों से बच्चों को बचाएगा। गौरतलब है कि खसरा और रूबेला जैसी बीमारियों से हर साल कई बच्चों की जान चली जाती है क्योंकि इस बीमारी के बारे में माता पिता को कोई जानकारी नहीं होती है परंतु अब बच्चों को बचाने के लिए स्वास्थ विभाग द्वारा इन गंभीर बीमारियों के बचाव के लिए निशुल्क टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है विभाग यह टीका स्कूल आंगनवाड़ियों सहित छोटे बच्चों को घर घर जाकर लगाएगा साथ ही इसके बारे में आम जनता को जागरूक भी किया जाएगा विभाग द्वारा यह टीका पूरी तरह निशुल्क लगाया जाएगा। मंत्री सिलावट बे मीडिया को बताया कि 2 करोड़ से अधिक खेल लक्ष्य को पूरे प्रदेश में पूरा किया जाएगा। एक कार्यक्रम के दौरान स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने लोगों से अपील की है कि वे अपने बच्चों को यह टीका अवश्य लगवाएं।