Indore : पुलिसकर्मियों की पत्नी को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनना सिखाएगा IIM, पहले चरण की हुई शुरुआत

इंदौर में महिलाओं को वित्तीय प्रबंधन के जरिये आत्मनिर्भर बनाने के लिये IIM के साथ मिलकर आर्थिक कार्यशाला का आयोजन हुआ।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के पुलिस महानिदेशक (Director General of police) विवेक जौहरी एवं आई.आई.एम. प्रबंधन के माध्यम से आज पुलिस परिवार की महिलाओं को आर्थिक आत्मनिर्भर की शुरुआत की गई। इन्दौर के नए पुलिस कंट्रोल रूम (Police control room) में आयोजित कार्यक्रम में आई.आई.एम. (Indian Institutes of Management) द्वारा पुलिस के साथ एक एम.ओ.यू. (Memorandum of Understanding) भी साइन किया गया। जिसमें पुलिस परिवार की 500 महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने का बीड़ा आई.आई.एम. द्वारा उठाया गया है। फिलहाल, पहले चरण में पुलिस परिवार की 100 महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

Indore : पुलिसकर्मियों की पत्नी को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनना सिखाएगा IIM, पहले चरण की हुई शुरुआत Indore : पुलिसकर्मियों की पत्नी को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनना सिखाएगा IIM, पहले चरण की हुई शुरुआत

यह भी पढ़ें…MP Weather Alert: 4 सिस्टम एक्टिव, मप्र के इन जिलों में बारिश और ओलावृष्टि के आसार

दरअसल, इन्दौर के नये पुलिस कंट्रोल रूम में आज पुलिस महानिदेशक व आई.आई.एम. के डायरेक्टर द्वारा पुलिस परिवार की महिलाओं को आर्थिक तौर पर आत्मनिर्भर बनाने की शुरूआत की गई है। आयोजन में डीआईजी (DIG) मनीष कपूरिया, एसपी आशुतोष बागरी, एसपी महेश चंद्र जैन व हेड क्वार्टर एएसपी मनीषा पाठक मौजूद रहे। वही डीआईजी ने बताया कि यह पुलिस परिवार की करीब 500 महिला है। जिसमें अभी 100 महिलाओं को शुरूआत में आत्मनिर्भर प्रशिक्षण दिया जाएगा। वही आत्मनिर्भर प्रशिक्षण की शुरुआत आज से पूरे प्रदेश में की गई है। जिसे पायलट प्रोजेक्ट (Pilot project) के रूप में इंदौर में शुरू किया जा रहा है।

वही कुछ दिन पहले पुलिस के एडिशनल डायरेक्टर विजय कटारिया ने आईआईएम के डायरेक्टर से मुलाकात कर पुलिस अधिकारियों व पुलिस कर्मचारियों के परिवार की महिलाओं के लिए बेहतर वितीय प्रबंधन के प्रशिक्षण प्लान रखा था। जिसके बाद आज से इसका आगाज किया गया। बता दें कि एक मिशन के तहत आई.आई.एम. इंदौर द्वारा पुलिस परिवार की महिलाओं को आर्थिक निर्भरता के संबंध में प्रशिक्षण दिया जाएगा। जिसके आने वाले दिनों में बेहतर परिणाम देखने को मिल सकते है।

यह भी पढ़ें…MP में कक्षा 1 से 8वीं के स्कूल खोलने पर शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार का बड़ा बयान