ड्रिंक एंड ड्राइव में इंदौर ने बनाया नया रिकॉर्ड, एक साथ 66 दो और चार पहिया वाहन जब्त

इंदौर, आकाश धोलपुरे। शराब पीकर सड़कों पर रफ्तार की सौदागरी करने वाले 50 से ज्यादा वाहन चालकों की उस समय शामत आ गई, जब वो इंदौर पुलिस (Indore Police) के द्वारा की जा रही चेकिंग के दौरान ब्रेथ एनालाइजर मशीन के सामने आए। दरअसल, इंदौर (Indore) में अपराध और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए पुलिस व्यापक पैमाने पर सड़कों पर उतर रही है और इसी का परिणाम है कि वीकेंड की रात को पुलिस के हत्थे 66 ऐसे लोग चढ़ गए जो शराब के नशे में खुलेआम सड़को वाहन पर वाहन दौड़ा रहे थे।

यह भी पढ़ें…इंदौर में पुलिस के हत्थे चढ़े 3 चेन स्नैचर्स, रिटायर्ड जज ने तारीफ कर कही यह बात

वीकेंड पर की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई
इंदौर यातायात पुलिस, पुलिस और रिजर्व पुलिस द्वारा चलाये ड्रिंक एंड ड्राइव अभियान के बाद जो परिणाम सामने आए है वो चौंकाने वाले है। वीकेंड यानि रविवार को एक ही दिन में इंदौर ने प्रदेश में एक नया रिकॉर्ड बनाया। इस रिकॉर्ड के तहत 1 दिन में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई करते हुए ट्रैफिक पुलिस ने 66 दोपहिया, चार पहिया वाहनों और ऑटो पर कार्रवाई करते हुए ड्रिंक एंड ड्राइव केस में 15-15 हजार का जुर्माना लगाते हुए सभी वाहन जब्त कर कोर्ट में पेश किए है।

एक दिन में 10 लाख के चालान
स्वच्छ इंदौर स्वस्थ इंदौर संकल्प के तहत यातायात विभाग की बड़ी कार्रवाई के दौरान एक ही दिन में 10 लाख के चालान बनाये गए है। जो अपने आप मे एक नया रिकॉर्ड है। यातायात पुलिस के डीएसपी उमाकांत चौधरी ने यातायात विभाग द्वारा चलाई ड्रिंक एंड ड्राइव मुहिम की जानकारी देते हुए बताया कि सभी जब्त 66 वाहनों पर जुर्माने की कार्रवाई के साथ ही अब विभाग आरटीओ विभाग को पत्र लिखकर उनके शराबी वाहन चालकों के लायसेंस निरस्त करने की मांग करेगा।

हालांकि मय के शौकीन सभी 66 वाहनों चालको की मुश्किलें बढ़ना लाजिमी है। ऐसे में उम्मीद की जा रही है दिन हो या फिर रात अब इंदौर की सड़कों पर ऐसे वाहन चालकों की कमी आ सकती है जो शराब पीकर वाहन चलाकर न सिर्फ खुद की बल्कि दुसरो की जान जोखिम में डालते है।

यह भी पढ़ें…इंदौर क्राइम ब्रांच और पुलिस की बड़ी कार्रवाई, 3 दर्जन से ज्यादा एटीएम लूटने वाले अंतरराज्यीय चोर गिरोह के 3 आरोपी गिरफ्तार