Indore : पेट्रोल-डीजल की कारों से मेयर भार्गव ने किया तौबा, केंद्रीय मंत्री ने भी की थी ये अपील

इंदौर (Indore) नगर निगम (Nagar Nigam) के मेयर पुष्यमित्र भार्गव (Pushya mitra bhargav) ने शुक्रवार के दिन ही अभय प्रशाल में अपने पद की शपथ ली। इस दौरान उन्होंने जनता से 5 संकल्प पूरा करने की बात कही।

indore , pushyamitra bhargav

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर (Indore) नगर निगम (Nagar Nigam) के मेयर पुष्यमित्र भार्गव (Pushya mitra bhargav) ने शुक्रवार के दिन ही अभय प्रशाल में अपने पद की शपथ ली। इस दौरान उन्होंने जनता से 5 संकल्प पूरा करने की बात कही। इसके बाद जब वह बाहर आए तो उन्होंने पेट्रोल-डीजल की कारों को छोड़ इलेक्ट्रिक कार को चुना और उसी में बैठ कर वह अपने घर गए। ऐसे में उनकी कार पर उनके नाम की प्लेट भी लगी हुई नजर आई। इस दौरान उन्होंने कहा कि इससे प्रदुषण नहीं होगा और वातावरण भी सही होगा।

Must Read : जब एक इंसान ने नागपंचमी पर खाया भूसा, अचरज में पड़ गए आसपास के लोग, Video Viral

आपको बता दे, पुष्यमित्र भार्गव ने पेट्रोल-डीजल की कारों को तौबा केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की अपील के बाद किया। दरअसल, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की ने मेयर और सभी सांसदों से ये अपील की थी कि वह इलेक्ट्रिक कारों को बढ़ावा दे। जानकारी के मुताबिक, शुक्रवार के दिन मेयर भार्गव ने अपने पद की शपथ ली। इस दौरान उन्होंने बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा के साथ शहर के विकास के लिए जनता से 5 संकल्प भी दिलवाए। ऐसे में उन्होंने जनता से ये कहा कि वह इन 5 संकल्पों को पूरा करने में मदद करें।

ये थे वो 5 संकल्प –

  • पहला था इंदौर के यातायात प्रबंधन को स्वच्छ्ता अभियान की तर्ज पर रोल मॉडल बनाना।
  • दूसरा सोशल पार्किंग सिस्टम व यातायात सुरक्षा नियमों का पालन करना। परिवार के हर सदस्य द्वारा हर साल एक पौधा रोपना।
  • तीसरा वॉटर रिचार्जिंग को घर घर पहुंचाना। साथ ही शहर के तालाबों और जल स्रोतों के संरक्षण व उन्नयन में भूमिका निभाना।
  • चौथा हर परिवार द्वारा बच्चों-युवाओं को खेल गतिविधियों से जोड़ना। साथ ही में खेल मैदानों के उन्नयन व रख रखाव में सहभागी बनना।
  • आखिरी था शहर की सुरक्षा का सजग प्रहरी बनना, अपने घर, व्यापारिक प्रतिष्ठानों, कॉलोनियों में जनसहयोग से सीसीटीवी कैमरे लगवाना।

जानकारी के मुताबिक, मेयर पुष्यमित्र भार्गव ने कल शपथ लेते वक्त यह भी कहा कि हम इंदौर की सांस्कृतिक पहचान, पारंपरिक उत्साह, शालीनता, खानपान जैसी विशेषताओं और अभियानों में काफी ज्यादा सक्रिय भागीदारी करेंगे जिनमे लोग जुड़ना और भाग लेना पसंद करते हैं। इसके अलावा उन्होंने कल इंदौर की जनता से यह भी आह्वान किया कि वह स्वच्छता जन आंदोलन को बरकरार रखें, क्योंकि इंदौर को छठी बार भी हम स्वच्छता में सिरमौर बनाएंगे।