Indore: नया नियम, नया बस स्टैंड, अब नौलखा और तीन इमली से नहीं बल्कि नायता मुंडला से होंगी बसें संचालित

Indore: नायता मुंडला बस स्टैंड पर 16 फरवरी से बस सेवा की शुरुआत, नौलखा और तीन इमली से संचालित होने वाली बसें अब यहां से संचालित होंगी।

indore

Indore: इंदौर शहर में नौलखा और तीन इमली से नायता मुंडला की तरफ बढ़ते कदम, शहर में यातायात व्यवस्था को सही ढंग से बनाए रखने के लिए इंदौर विकास प्राधिकरण द्वारा नायता मुंडला में बस स्टैंड का निर्माण पूरा कर लिया गया है। नायता मुंडला बस स्टैंड से 16 फरवरी से बसों का संचालन शुरू होगा।

जितनी भी बसें नौलखा और तीन इमली से संचालित हुआ करती थी। वह सारी बसें अब नायता मुंडला से संचालित होंगी। आपको बता दें, नौलखा और तीन इमली से चलने वाली करीब 800 बसों का शहर में अब प्रवेश बंद हो जाएगा। कलेक्टर आशीष सिंह ने ट्रैफिक, नगर निगम, और आरटीओ अधिकारियों के साथ इस बस स्टैंड का दौरा किया और इसके संचालन से जुड़ी व्यवस्थाओं की सुनी।

कलेक्टर की अपील

कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया की इंदौर शहर में परिवहन व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए नया कदम उठाया गया है। नौलखा और तीन इमली बस स्टैंड से चलने वाली सभी बसें अब नायता मुंडला बस स्टैंड से संचालित होंगी। यह बदलाव 16 फरवरी 2024 से लागू होगा। 12 फरवरी को व्यापक चर्चा के लिए व्यवस्थाओं और बस ऑनर्स एसोसिएशन के साथ एक और मीटिंग की जाएगी। 15 फरवरी तक सभी व्यवस्थाएं तैयार करने के लिए निर्देश दिए गए हैं। इस बस स्टैंड के शुरू होने के बाद, नौलखा और तीन इमली से बसों की आवाजाही बंद हो जाएगी, जिससे शहर के एक बड़े हिस्से को ट्रैफिक में बड़ी राहत मिलेगी।

इस बदलाव के पीछे मुख्य कारण

शहर के यातायात को सुचारू बनाना: नौलखा और तीन इमली बस स्टैंड शहर के बीचों बीच स्थित हैं, जिसके कारण इन क्षेत्रों में अक्सर जाम की स्थिति रहती है। नायता मुंडला बस स्टैंड शहर के बाहरी इलाके में स्थित है, जिससे यातायात का दबाव कम होगा।

यात्रियों को बेहतर सुविधाएं: नायता मुंडला बस स्टैंड एक आधुनिक सुविधाओं से युक्त बस स्टैंड है। यहां यात्रियों के लिए विशाल प्रतीक्षालय, टिकट खिड़कियां, पूछताछ केंद्र, रेस्टोरेंट और अन्य सुविधाएं उपलब्ध हैं।

पर्यावरण संरक्षण: नायता मुंडला बस स्टैंड से बसों का संचालन होने से शहर में प्रदूषण का स्तर कम होगा। जिस शहर का वातावरण बेहतर होगा।

किन तीन रूटों की चलेंगी बसें

पहला रूट भोपाल, रीवा, सतना, जबलपुर का रहेगा। वहीं दूसरा रूट, ग्वालियर, शाजापुर, गुना का रहेगा। जबकि तीसरा रूट बैतूल, नर्मदापुरम, हरदा, भेरूंदा, खातेगांव कन्नौद का रहेगा।

हालांकि, इस बदलाव से यात्रियों को थोड़ी परेशानी का भी सामना करना पड़ सकता है क्योंकि नायता मुंडला बस स्टैंड शहर के केंद्र से काफी दूर है जिसके कारण कुछ यात्रियों को बस स्टैंड तक पहुंचने में परेशानी हो सकती है। नायता मुंडला बस स्टैंड से सभी बसों का संचालन शुरू होने जा रहा है जिसके बाद कुछ रूटों पर बसों की संख्या कम हो सकती है जिस वजह से यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ सकती है।


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News