Indore News : नाबालिग का उसके मामा द्वारा शारिरिक शोषण, पुलिस ने किया प्रकरण दर्ज

इंदौर से भाग चुके दरिंदे मामा को बाहर से पकड़ा और न्यायालय में पेश किया जिसके बाद वहशी मामा जेल की हवा खा रहा है।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। महिला अपराधों को लेकर संवेदनशील इंदौर (Indore) पुलिस ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म (rape) के मामले उसके रिश्तेदार पर पॉक्सो एक्ट (POCSO Act) सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है रिश्ते में सगा मामा कहलाने वाले ने नाबालिग को पहले डराया और धमकाया और फिर उसके साथ गलत संबंध बना लिए। जिसके बाद नाबालिग ने मामा की करतूत को अपनी माँ के सामने बताया तो माँ ने बेटी के साथ हुए दुष्कर्म मामले में विजय नगर पुलिस थाने शिकायत दर्ज कराई। वही पुलिस ने इंदौर से भाग चुके दरिंदे मामा को बाहर से पकड़ा और न्यायालय में पेश किया जिसके बाद वहशी मामा जेल की हवा खा रहा है।

यह भी पढ़े… कर्मचारियों को तोहफा, मानदेय में 2500 की वृद्धि, अधिसूचना जारी, खाते में आएंगे 15000 रुपए

दरअसल, मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में नानी के घर पढ़ाई करने आई एक नाबालिक बच्ची के साथ वहशी मामा ने रिश्तों को तार-तार करते हुए बच्ची के साथ दुष्कर्म जैसी घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। जिसके पीड़िता के परिजनों की शिकायत के बाद अरोपी मामा के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़े… इंदौर- युवती को जान से मारने की धमकी देने वाले आरोपियों पर रासुका की कार्रवाई

घटना उस वक्त सामने आई जब विजय नगर थाना क्षेत्र में रहने वाली एक पीड़ित नाबालिग बच्ची के परिजनों ने थाने पर आकर शिकायत दर्ज कराई और पुलिस को बताया वह बाहर से आकर पढ़ाई करने इंदौर में अपनी नानी के घर पर आई थी। इस दौरान सगे मामा ने बच्ची के साथ शारीरिक संबंध बनाए और उसे डराने धमकाने लगा जब बच्ची ने अपने घर में अपने परिजनों को बात बताई तो थाने पर आकर परिजनों ने इस मामले में प्रकरण दर्ज कराया। घटना को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर कार्यवाही की गई जिसे माननीय न्यायालय पेश कर जेल भेज दिया गया है। विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी पुलिस ने आरोपी मामा पर धारा 376 और पॉक्सो एक्ट सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज कर कोर्ट में पेश कर दिया है। फिलहाल, आरोपी मामा जेल में है वही इस घटना के सामने आने के बाद ये सवाल उठ रहा है कि सगे रिश्तों के आधुनिक युग मे क्या मायने है और किस पर विश्वास किया जाए।