इंदौर कलेक्टर को फर्जी कॉल करने वाले को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

Indore News : इंदौर क्राइम ब्रांच ने एक ऐसे आरोपी को गिरफ्तार किया है जो की एक होटल में खाना खाने के बाद सीधे इंदौर कलेक्टर को फोन लगाकर कहा कि इंदौर सीएम हाउस से बोल रहा हूं। इस होटल को जल्द सील करो। इसके बाद नंबर को वेरीफाई किया। और इस बात की जानकारी क्राइम ब्रांच को लगी तो उसे नंबर को सर्च करने के बाद क्राइम ब्रांच और विजयनगर पुलिसकर्मी करनावत भोजनालय पहुंचे। जहां से आरोपी को गिरफ्तार किया है।

यह है पूरा मामला

टीआई रविंद्र गुर्जर ने बताया कि विजयनगर थाना पुलिस को यह सूचना मिली थी कि क्राइम ब्रांच से सूचना मिली थी कि कर्णावत भोजनालय बूंदनी सीहोर के जेत गांव का रहने वाले आरोपी ललित चौहान पिता पवन चौहान ने पुलिस कंट्रोल रूम से इंदौर कलेक्टर का फोन लगाया और आरोपी ने कहा कि मैं सीएम हॉउस से बोल रहा हूँ। इस होटल को सील कर करना है जिसके बाद होटल संचालक से आरोपी का विवाद हुआ है।

आरोपी का कहना है कि वहां पर होटल संचालक द्वारा एक थाली में एक ही व्यक्ति को खाना खिलाना का नियम है। लेकिन वहां तीन लोग एक साथ एक ही थाली में खाना खा रहे थे जिसके कारण होटल संचालक से विवाद हुआ। इसके बाद उसने इंदौर थाना प्रभारी के नंबर लिए और सभी को सिर्फ यही कहने लगा कि सीएम हाउस से बोल रहा हूं और यहां पर कार्रवाई करना है जिसके बाद क्राइम ब्रांच और विजयनगर पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए आरोपियों गिरफ्तार किया।
इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News