Indore News : CCTV में कैद चोरी की वारदात, मोबाइल ले उड़ा चोर

Indore News : रावजी बाजार थाना क्षेत्र में पलसीकर चौराहे सिग्नल पर खड़े फरियादी से धोखा देकर अज्ञात एक आरोपी ने मोबाइल चुराया हो मौके से रफू चक्कर हो गया फरियादी अमीन ने अपने साथ हुई घटना की जानकारी थाने पर दी जिस पर पुलिस ने प्रकरण पंजीबद्ध करते हुए मामले में भी विवेचना शुरू की घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे में आरोपी नजर आया।

यह है मामला

एसीपी देवेंद्र सिंह धुर्वे के अनुसार थाना क्षेत्र में फरियादी अमीन ने अपने साथ हुई चोरी की घटना रावजी बाजार थाने में दर्ज कराई थी जिस पर पुलिस ने मामला दर्ज करते हुए सामने आए सीसीटीवी के आधार पर आरोपी की तलाश शुरू की ओर फुटेज के आधार पर पुलिस के हाथ एक आरोपी लगा जिसने फरियादी अमीन का मोबाइल चोरी किया था विक्की नामक एक चोर ने चोरी के मोबाइल को विष्णु को बेचा और विष्णु ने यह मोबाइल कृष्णा को दिया कृष्णा ने जितेंद्र वाधवानी नामक आरोपी को मोबाइल बेच दिया पुलिस रावजी बाजार ने जितेंद्र वाधवानी के घर दबिश दी तो मोबाइल का एक बड़ा जखीरा पुलिस के हाथ लगा जिसकी संख्या 642 है और बरामद किए गए मोबाइल की कीमत करीब 60 लाख रुपये बताई जा रही है। एसीपी के अनुसार आरोपी जितेंद्र वाधवानी मौके से फरार हो गया जिसकी तलाश की जा रही है।

रावजी बाजार थाना क्षेत्र के पल्सीकर चौराहे पर एक चोर ने आशीर्वाद लेने के बहाने तीन दिन पहले फरियादी अमीन का मोबाइल जब से चुरा लिया था फरियादी ने चोरी का मुकदमा रावजी बाजार थाने में दर्ज कराया और दर्ज हुई फिर के बाद पुलिस ने सीसीटीवी के माध्यम से चोर की तलाश की और विक्की नमक कर जिसने घटना को अंजाम दिया था पुलिस के हाथ लगा पकड़े गए चोर से चौका देने वाला खुलासा जब हुआ के पुलिस ने विक्की के बाद विष्णु कृष्णा और फिर चोरी किया हुआ मोबाइल जितेंद्र वाधवानी को बेचना बताया पुलिस मैं जितेंद्र वाधवानी के घर दबिश दी और मौके से 642 मोबाइल जप्त किए हालांकि मौके से जितेंद्र फरार हो गया जिसकी तलाश की जा रही है। मोबाइल चोरी कांड में फरार आरोपी जितेंद्र को लेकर एसीपी ने बताया कि कुछ समय पहले जेल रोड स्थित मोबाइल की शॉप थी जो फिलहाल बंद है एसीपी ने यह भी कहा कि यह एक बड़ा गिरोह हो सकता है और जितेंद्र के पकड़े जाने के बाद और भी कई राज खुलने की उम्मीद है।

 

गौरतलब है कि 3 दिन पहले थाना क्षेत्र में हुई एक मोबाइल की चोरी के बाद पुलिस की तत्परता से लाखों रुपए के मोबाइल आरोपी के घर से बरामद करने में पुलिस को सफलता मिली है सिंडिकेट के सभी सदस्य जब पुलिस गिरफ्त में होंगे तो और भी कई राज मोबाइल चोरी के खुलेंगे इस बात की उम्मीद की जा सकती है।
इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News