Indore News : मोमोज के पीछे क्या है सुपारी का राज, कैसे पुलिस ने किया पर्दाफाश

वही पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

इंदौर,आकाश धोलपुरे। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर (indore) में व्यवसायिक प्रतिद्वंदता का उद्दंड स्वरूप देखने को मिला है। दरअसल, यहां दो दुकानदार एक ही तरीके का व्यवसाय करते है लेकिन दूसरे की दुकान ग्राहकी को बढ़ता देख पहले दुकानदार ने उसे हमेशा के लिए रास्ते से हटाने का फैसला किया। जिसके चलते उसने शातिर बदमाशों को हायर किया और हत्या की सुपारी दे दी। इधर, पुलिस ने बड़ी वारदात को अंजाम देने के पहले ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़े… नौसेना व DRDO को मिली बड़ी सफलता, एंटी शिप मिसाइल में भारत ने की महारत हासिल

दरअसल, पूरा मामला इंदौर के विजय नगर थाना क्षेत्र का है। जहां पुलिस ने मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर कार्रवाई की तो पता चला कि वक्त रहते जानकारी नही मिलती तो बड़ी वारदात हो सकती थी। मिली जानकारी के मुताबिक विजय नगर थाना क्षेत्र में पॉवर हाउस के पास के मैदान में हथियारबंद बदमाश एक दुकानदार की हत्या करने की योजना बना रहे थे। सूने मैदान में बैठे बदमाशों को जब पुलिस सूचना के आधार पर पकड़ा तो बदमाशों ने एक बड़े राज का खुलासा किया। दरअसल, मालवीय नगर में पड़ोसी दुकानदार की हत्या की सुपारी हिमांशु नामक दुकानदार ने दी थी। मूलतः उज्जैन का रहने वाले हिमांशु की मोमोज की दुकान मालवीय नगर में है वही उसके पड़ोस में राजा नामक शख्स की भी मोमोज की दुकान है।

यह भी पढ़े…दिल्ली के उपराज्यपाल ने दिया इस्तीफा, जानें क्या है वजह

पिछले कुछ समय से राजा की दुकान अच्छी चल रही थी और ये ही वजह थी कि उज्जैन के अवंतिपुरा में रहने वाले हिमांशु ने राजा की हत्या करवाने की ठान ली। इसके लिए उसने उज्जैन और इंदौर में रहने वाले बदमाशों का सहारा लिया। हालांकि मामला व्यवसायिक प्रतिद्वंदता का था लेकिन हिमांशु ने योजना बनाई थी उसने जो बदमाश हायर किये है वो राजा की दुकान पर मोमोज खाने जाएंगे और इस दौरान खराब मोमोज के नाम पर वो राजा से विवाद कर उसका गल्ला लूट लेंगे और फिर उसकी हत्या कर देंगे ताकि पूरा मामला लूट के इरादे से की गई हत्या के रूप में सामने आये। इसके लिए बकायदा हिमांशु ने दुकान की लोकेशन व अन्य जानकारियां बदमाशों के मोबाइल पर शेयर की थी।

Indore News : मोमोज के पीछे क्या है सुपारी का राज, कैसे पुलिस ने किया पर्दाफाश

यह भी पढ़े…क्या आप जानते हैं बार-बार गर्म किया हुआ तेल का खाना गंभीर बीमारियों को निमंत्रण देता है

इधर, जब आरोपी अजय पांचाल, मयंक परिहार निवासी उज्जैन, लल्ला और प्रीत मालवीय इंदौर नाम वे बदमाशों को जब पुलिस ने पकड़ा तो पुलिस पूछताछ में मोमोज के पीछे सुपारी की पूरी योजना को पुलिस के सामने उगल दिया। जिसके बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी मोमोज विक्रेता हिमांशु को भी गिरफ्तार कर लिया वही बदमाशो के पास से तीन चाकू और एक रॉड सहित अन्य हथियार बरामद कर लिए।

यह भी पढ़े…ICSI CSEET Result 2022 Declared : जारी हुआ इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ कंपनी सेक्रेटरीज का रिजल्ट, ऐसे करें डाउनलोड

विजय नगर थाना प्रभारी तहजीब काजी के मुताबिक व्यवसायिक प्रतिद्वंदता के चलते पूरी योजना बनाई गई थी वही पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इधर, पुलिस अब बदमाशो के पुराने रिकॉर्ड भी खंगाल रही है। फिलहाल, ताजा मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर लिया वही राजा नामक मोमोज विक्रेता ने राहत की सांस ली है।