Indore news: महाराष्ट्र से बेटे और पत्नी को इंदौर लाया, दोस्त के घर ठहराया और कर दी हत्या

रोजगार की तलाश में महाराष्ट्र के अकोला से इंदौर आया था युवक। दोस्त के यहां ठहरा और पत्नी और बेटे को सुलाया मौत की नींद।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में एक ऐसा कृत्य सामने आया है जिसने इंदौर का सिर एक बार फिर शर्म से झुका दिया है। महाराष्ट्र के अकोला के ग्रामीण क्षेत्र से रोजगार की तलाश में आये एक परिवार में एक ऐसी शर्मनाक घटना घटी जिसने इंसानियत को भी शर्मसार कर दिया और रिश्तो के ताने-बाने को तितर-बितर कर दिया।

यहां भी देखें- Indian railway recruitment: इंडियन रेलवे आरपीएफ कॉन्सटेबल रिक्रूटमेंट 2022 का नोटिस फर्जी है

वारदात इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र की है जहां की गणेश धाम कालोनी में एक व्यक्ति ने अपने बेटे और पत्नी को मौत के घाट उतार दिया। दो हत्या करने के बाद अपराधी फिलहाल फरार है। मौके पर पहुंची पुलिस के अनुसार महाराष्ट्र के अकोला से 40 वर्षीय कुलदीप डिगे अपनी 32 वर्षीय पत्नि शारदा डिगे और 11 वर्षीय बेटे आकाश के साथ रोजगार की तलाश में इंदौर आया था।
कुलदीप किराये के घर मे रहने वाले अपने दोस्त मंगेश के यहां ठहरा। मंगेश हर रोज सुबह 6 बजे नौकरी पर जाता था और शाम को 5 बजे लौटता। इस बीच वो कुलदीप के इरादों को नहीं जान पाया। 9 जनवरी को इंदौर पहुंचे कुलदीप ने बुधवार दोपहर को पहले अपने बेटे आकाश और पत्नि को धारदार हथियार से मार कर घर पर ताला लगा दिया और खुद भाग खड़ा हुआ। शाम को जब मंगेश अपने काम पर से घर लौटा तो घर के अंदर का नजारा देख उसके होश उड़ गए। इसके बाद मंगेश ने मकान मालिक को पूरा मामला बताया और पुलिस को सूचना दी गई।

यहां भी देखें- Indore news: 15 साल से गो भक्ति की मिसाल बन चुके बुजुर्ग ने विधि पूर्वक गाय का अंतिम संस्कार किया

          

बाणगंगा पुलिस ने सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचकर घटना का जायजा लिया और घटना  स्थल पर कमरे में पड़े माँ – बेटे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शुरुआती जांच में पुलिस के अनुसार कुलदीप ने यह दोनों हत्या की है और फिलहाल वह फरार है। फिलहाल पुलिस मामले की हर दृष्टिकोण से जांच कर रही है।