इंदौर पुलिस ने अंतर्राज्यीय गैंग का किया पर्दाफाश, तीन आरोपी गिरफ्तार

Shashank Baranwal
Published on -
Indore News

Indore News: मध्य प्रदेश के इंदौर जिले में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। जहां तेजाजी नगर पुलिस की तरफ से एक अंतर्राज्यीय गैंग के तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया गया। इन आरोपियों पर बलवा, चोरी और एटीएम कटिंग जैसे कई गंभीर अपराधिक मामले दर्ज है। पकड़े गए आरोपियों से दो देशी कट्टे सहित 11 लाख 35 हजार रुपए की नकद राशि बरामद हुई है। साथ ही पुलिस ने गैस कटर और धारदार हथियार भी बरामद किया गया हैं।

पेट्रोल पंप पर डकैती का बना रहे थे योजना

जानकारी देते हुए एडिशनल डीसीपी आलोक शर्मा ने बताया कि मुखबिर द्वारा सूचना मिली थी कि इको गार्डन खंडवा रोड के पास कुछ बदमाश कार से आए हैं और पेट्रोल पंप पर डकैती डालने की योजना बना रहे हैं। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तीन बदमाशों को पकड़ लिया। वहीं दो आरोपी पुलिस को चकमा देकर से भाग निकले। पकड़े गए आरोपियों में फारुख खान पिता इसराइल खान निवासी मुदिया खेड़ा, अलवर राजस्थान, सद्दाम हुसैन पिता माजिद हुसैन उम्र 31 निवासी, नूंह हरियाणा और रोबिन खान पिता रईस खान निवासी अलीमेंव, पलवल हरियाणा के हैं। आरोपियों ने स्वीकार किया है कि उन्होंने राजस्थान और हिरयाणा के विभिन्न इलाकों जैसे जयपुर, गुरुग्राम में अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ मिलकर गैंग बनाई गई थी।

विभिन्न राज्यों में घटना को दिया अंजाम

आपको बता दें आरोपियों द्वारा कुछ दिनों पहले गुड़गांव, जयपुर, निवाड़ी, नागपुर, हैदराबाद, आगरा और अलवर समेत विभिन्न राज्यों में कई घटनाओं को अंजाम दिया गया है। जिसमें एटीएम कटिंग, नशाखोरी, डकैती और चोरी जैसे गंभीर अपराध शामिल है। वहीं पकड़े गए आरोपी नशे के आदी हैं। आपको बता दें आरोपियों के कार की तलाशी ली गई तो उसमें से दो देशी पिस्तौल समेत 11 लाख 35 हजार रूपए की नकद राशि बरामद हुई हैं। जिसे आरोपियों ने कार की सीट के नीचे छुपा कर रखा था। यह नकद रुपया उन्होंने लूट की घटना को अंजाम देकर हासिल किया था।

इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Shashank Baranwal

Shashank Baranwal

पत्रकारिता उन चुनिंदा पेशों में से है जो समाज को सार्थक रूप देने में सक्षम है। पत्रकार जितना ज्यादा अपने काम के प्रति ईमानदार होगा पत्रकारिता उतनी ही ज्यादा प्रखर और प्रभावकारी होगी। पत्रकारिता एक ऐसा क्षेत्र है जिसके जरिये हम मज़लूमों, शोषितों या वो लोग जो हाशिये पर है उनकी आवाज आसानी से उठा सकते हैं। पत्रकार समाज मे उतनी ही अहम भूमिका निभाता है जितना एक साहित्यकार, समाज विचारक। ये तीनों ही पुराने पूर्वाग्रह को तोड़ते हैं और अवचेतन समाज में चेतना जागृत करने का काम करते हैं। मशहूर शायर अकबर इलाहाबादी ने अपने इस शेर में बहुत सही तरीके से पत्रकारिता की भूमिका की बात कही है– खींचो न कमानों को न तलवार निकालो जब तोप मुक़ाबिल हो तो अख़बार निकालो मैं भी एक कलम का सिपाही हूँ और पत्रकारिता से जुड़ा हुआ हूँ। मुझे साहित्य में भी रुचि है । मैं एक समतामूलक समाज बनाने के लिये तत्पर हूँ।

Other Latest News