इंदौर पुलिस को मिली बड़ी सफलता, 5 हजार के इनामी शराब तस्कर को सीधी से किया गिरफ्तार

इंदौर की कनाड़िया पुलिस को शराब दुकान के 5 हजार के इनामी मैनेजर की तलाश थी, जिसे इंदौर पुलिस ने मुखबिर तंत्र के जरिये खोज निकाला और उसे मध्यप्रदेश के सीधी जिले की एक शराब दुकान से गिरफ्तार कर लिया है।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। एक वर्ष पहले शराब की अवैध तस्करी (illegal liquor smuggling) के मामले में फरार आरोपी को पकड़ने में इंदौर पुलिस (Indore Police) को सफलता मिली है। दरअसल, इंदौर की कनाड़िया पुलिस को शराब दुकान के 5 हजार के इनामी मैनेजर की तलाश थी, जिसे इंदौर पुलिस ने मुखबिर तंत्र के जरिये खोज निकाला और उसे मध्यप्रदेश के सीधी (Sidhi) जिले की एक शराब दुकान से गिरफ्तार कर लिया है।

Read More…राजधानी भोपाल में बनेगा भारत माता का मंदिर, सीएम शिवराज ने की घोषणा

बतादें कि एक साल पहले इंदौर की कनाड़िया पुलिस ने बायपास पर कार्रवाई करते हुए अवैध रूप से लाई जा रही देशी शराब के बड़े जखीरे को पकड़ा था और साथ ही उस दौरान दो लोगो को गिरफ्तार किया था। वाहन की सहायता से करीब 1300 लीटर शराब खरगोन (Khargone) के बलवाड़ा (Balwara) से इंदौर (Indore) लाई जा रही थी। तब ही पुलिस ने वाहन चालक सहित एक अन्य को गिरफ्तार किया था जिसके बाद पुलिस पूछताछ में दोनों आरोपियों ने कबूला था कि वो बलवाड़ा की देशी शराब की दुकान से शराब लाये थे और वहां के मैनेजर की सलिंपत्ता इस मामले में पाई गई थी। लेकिन मैनेजर रजनीश तिवारी को इस बात की भनक लग गई थी। जिसके बाद वो मौके से फरार हो गया था। इसके बाद पुलिस ने शराब दुकान के मैनेजर रजनीश तिवारी खोजबीन जारी रखी और उस पर पुलिस ने 5 हजार का इनाम भी घोषित कर दिया।

इधर, पुलिस ने आखिरकार मुखबिरों की मदद से मैनेजर को ढूंढ निकाला और कनाड़िया पुलिस ने सीधी जिले की एक शराब दुकान पर काम कर रहे मैनेजर को गिरफ्तार कर लिया और उसे इंदौर ले आई। जानकारी के मुताबिक पुलिस ने उसे कोर्ट में पेश कर दिया। कनाड़िया थाना पुलिस के जांच अधिकारी बलवीर सिंह ने बताया कि एक वर्ष पूर्व के अवैध शराब मामले में आरोपी मैनेजर की बड़ी भूमिका थी और अब वह पुलिस गिरफ्त में आ चुका है।

https://vimeo.com/587833156