इंदौर ने लगाया स्वच्छता का चौका, फिर नम्बर 1, सीएम ने दी बधाई, शहर में उत्सव का माहौल

इंदौर, आकाश धोलपुरे

स्वच्छता सर्वेक्षण-2020 के नतीजे 20 अगस्त को घोषित किए गए और इंदौर ने लगातार चौथी बार स्वच्छता सर्वेक्षण में नम्बर 1 का स्थान हासिल किया है। 2017 से नम्बर 1 पर काबिज इंदौर को जैसे ही इस बात की आधिकारिक जानकारी मिली वैसे ही इंदौर नगर निगम में उत्साह का माहौल बन गया। स्वच्छता सर्वेक्षण में दूसरे नंबर पर सूरत और तीसरे नम्बर नवी मुंबई रही है।

गुरुवार को शहरी विकास एवं आवास मंत्रालय को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा अवार्ड दिया गया, हालांकि कोरोना काल के कारण इस बार डिजिटली सर्वेक्षण की घोषणा की गई। हैट्रिक के बाद इंदौर ने अब चौका लगाया है वहीं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस मौके पर कहा कि ये प्रदेश के गर्व की बात है कि इंदौर लगातार चौथी बार नम्बर 1 पर काबिज हुआ है। इसी के साथ प्रदेश की राजधानी भोपाल देश की सबसे स्वच्छ राजधानी बन गई है जो गौरव की बात है। वहीं उन्होंने कहा कि इंदौर में स्वच्छता अब सभ्यता का रूप के चुकी है और निश्चित ही इंदौर स्वच्छता में चौके साथ छक्का भी लगाएगा।

बता दें कि पिछले दिनों घोषित हुए गारबेज फ्री सिटी की रैंकिंग में भी इंदौर को फाइव स्टार मिले थे। वही इंदौर का वेस्ट मैनेजमेंट, सफाईकर्मियों की दिन रात मेहनत, गीले और सूखे कचरे के प्रबंधन के साथ ही इंदौरवासियों की जागरूकता सहित अधिकारियों व कर्मचारियों के दृढ़ संकल्प के साथ इंदौर ने एक बार फिर बाजी मारी है। मध्यप्रदेश में इंदौर के अलावा भोपाल, ग्वालियर और जबलपुर देश के टॉप 20 शहरों में अपना स्थान बनाने में कामयाब रहे है। इंदौर में नम्बर 1 की खुशी की खुमारी इस कदर छाई की निगम कर्मचारियों और सफाई मित्रों ने ढोल नगाड़ों की थाप पर जमकर नाच गाकर उत्साह मनाया और एक दूसरे को मिठाई को खिलाकर बधाई भी दी। निगम अधिकारियों ने भी इस अवसर पर जमकर जश्न मनाया। बता दें कि पहले से पूर्व निगमायुक्त आशीष सिंह और वर्तमान निगमायुक्त प्रतिभा पाल को भोपाल बुला लिया गया था ताकि इंदौर के नम्बर 1 अवार्ड को वो प्राप्त करें।
इंदौर में सांसद शंकर लालवानी ने शहरवासियों को नम्बर 1 बने रहने पर शुभकामनाएं दी है।