इंदौर।

इंदौर के चंदन नगर में पुलिस प्रशासन पर हमला करने का एक और नया मामला आया था। जिसके बाद त्वरित जवाबी कार्रवाई करते हुए पुलिस बल ने छह संदिग्धों को गिरफ्तार किया है। जिनमें से चार के खिलाफ एनएसए के तहत मामला दर्ज किया गया है।

दरअसल नगर सुरक्षा समिति के सदस्यों के साथ पुलिस की सहायता करने वाले नागरिक स्वयंसेवकों की एक पुलिस टीम मंगलवार रात चंदन नगर में हमले के दौरान तालाबंदी कर रही थी।जहां पुलिस को सड़कों पर घूमते कुछ लोग दिखाई दिए। कांस्टेबल सुरेंद्र ने उन्हें कर्फ्यू प्रतिबंधों के दौरान सड़कों पर ना घूमते हुए घर जाने को कहा। जिसके बाद भीड़ हिंसक हो गई और पुलिस टीम पर पथराव शुरू कर दिया गया। अतिरिक्त एसपी मनीष खत्री ने कहा कि पथराव देखते हुए पुलिस बल को पीछे हटना पड़ा। जिससे कि वे लोग फरार होने में सफल हो गए थे। जिसके तुरंत बाद पुलिस ने त्वरित कार्यवाही शुरू करते हुए इलाके की तलाशी ली और हमले में शामिल छह लोगों की शिनाख्त कर उन्हें गिरफ्तार किया है। जिनमें से चार के खिलाफ एनएसए के मामले दर्ज किए गए हैं।

बता दें कि एक सप्ताह में राज्य में पुलिस और स्वास्थ्यकर्मियों पर यह तीसरा हमला है । 1 अप्रैल को इंदौर के टाटपट्टी बाखल इलाके में दो महिला डॉक्टर और उनकी पुलिस टीम पर पत्थरबाजी की गई थी और 6 अप्रैल को भोपाल के तलैया में भीड़ ने दो पुलिसकर्मियों को चाकू मारकर घायल कर दिया था। जिसके बाद मुख्यमंत्री चौहान के निर्देश पर तीनों मामलों में एनएसए लगाया गया है।