इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (Indore) के एमआइजी थाना क्षेत्र में एक महिला के अपहरण (kidnapping) का मामला सामने आया है। जानकारी के अनुसार महिला एवं उसका पति अस्पताल में वार्ड वाय का काम करते थे। और नौकरी ढूंढने के सिलसिले में राजस्थान (Rajasthan) कोटा गए थे। जहां से महिला का कुछ लोगों द्वारा अपहरण कर लिया गया है। इस मामले में पुलिस ने मामला दर्ज कर जाँच में जुट गई है।

यह भी पढ़ें… Chhindwara : वन विभाग को मिली कामयाबी, अवैध सागौन की लकड़ी सहित आरोपी पकड़ा

यह है मामला
गौरतलब है कि कोमल तरपरे और उसका पति सोनू तरपरे इंदौर के शेल्वी अस्पताल में काम करते थे। अधिक पैसे कमाने के लिए करीब 5 दिन पहले नौकरी छोड़कर राजस्थान कोटा चले गए थे। जहां पर कोमल को अगवा कर लिया गया। जिसकी शिकायत पति सोनू ने भीमगंज थाना कोटा में दर्ज करवाई है। कोमल की पत्ती सोनू ने शिकायत में कहा कि उसकी पत्नी का अपहरण कुछ लोगों द्वारा किया गया है। वहीं उसकी दूसरी शादी भी करवा दी गई है।

इस मामले में कोमल की मां सुनीता बंसीवाल का कहना है की कोमल के ऊपर 10 हजार रुपए का कर्ज था। जिसको वह देने में असमर्थ थी। और कर्जदार से लगातार परेशान थी। इसी के चलते पैसे कमाने के लिए कोमल अपने पति के साथ राजस्थान कोटा गई थी। कोमल का कहना था कि राजस्थान में उसे डबल सैलरी मिल रही है। वही जब कोमल से फोन पर बात हुई तो कोमल ने बताया कि मुझे ले जाकर बेच दिया गया है। और मेरी जबरदस्त की दूसरी शादी करवा दी है। इधर, सब इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह का कहना है की दंपत्ति के परिजनों ने इंदौर के थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस जांच कर रही है, फिलहाल कोटा के भीमगंज थाने के अधीक्षक से संपर्क में है और जल्दी कोमल के संबंध में पता लगा लिया जाएगा।