इंदौर की विशेष अदालत ने बलात्कारी के दोषियों को सुनाई सजा, जानिए पूरा मामला

नाबालिगों से बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किए गए दो बलात्कारियों को गुरुवार को दो अलग-अलग फैसलों में लंबे काल तक जेल में रहने की सजा सुनाई गई है।

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। नाबालिगों से बलात्कार के आरोप में गिरफ्तार किए गए दो बलात्कारियों को गुरुवार को दो अलग-अलग फैसलों में लंबे काल तक जेल में रहने की सजा सुनाई गई है। एक नाबालिग से रेप के मामले में आरोपी मामा था जिसे 20 साल कैद की सजा सुनाई गई है। वहीँ दूसरे मामले में आरोपी को 10 साल की जेल की सजा सुनाई गई है। संजीव श्रीवास्तव जिला अभियोजन अधिकारी ने बताया कि दोनों आरोपियों को पॉक्सो एक्ट (विशेष न्यायाधीश) नीलम शुक्ला की अदालत ने सजा दी है।

यह भी पढ़ें – बिना बिजली से चलने वाले बेस्ट हाई स्पीड ब्रांडेड FAN, दिलाते हैं गर्मी में ठंड का एहसास

संजीव श्रीवास्तव ने आगे बताया कि रेप के मामले में अपराधी मामा के खिलाफ खुरेल थाने में अप्रैल 2018 में मामला दर्ज किया गया था। पीड़िता की मां आरोपी के साथ, पीड़िता को छोड़कर एक शादी समारोह में गई थी। उसके बाद मामा ने उसे आइस कैंडी का वादा करके उसे जंगल में ले गया, और वहां उसने उसके साथ बलात्कार किया। जब वे वापस घर लौटे तो पीड़िता ने घटना के बारे में अपने परिवार को बताया। परिवार ने तुरंत ही पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

यह भी पढ़ें – RBI का नया फरमान बिना कार्ड के ही नकद निकासी की होगी शुरुआत

वहीं दूसरी घटना में पीड़िता के पड़ोसी आरोपी को 10 साल जेल की सजा सुनाई गई है। दरअसल मार्च 2016 में, आरोपी ने पीड़िता के घर में घुसकर उसके साथ बलात्कार किया था और साथ ही उसे किसी को न बताने की धमकी दी थी। बात खुलने के बाद पीड़िता के पिता ने घर आकर आरोपी को पकड़ लिया। उसके बाद उस 20 वर्षीय लड़के को बाणगंगा थाने ले गए जहां मामला दर्ज किया गया था।