कोविड – 19 के खिलाफ़ इंदौर की अनूठी रंगोली, जिसमें दुआ के साथ सतर्कता भी

इंदौर।आकाश धौलपुरे। जन – जन के मन मे एक ही बात है कि हम सुरक्षित तो देश सुरक्षित क्योंकि कोरोना वायरस ना तो अमीरी देखता है और ना गरीबी और ना ही कोई जात – पात या धर्म, उसका तो बस एक ही काम फैलना और लाशो के सैलाब में दुनिया को बदलना। लिहाजा, देश के पीएम की अपील पर देशभर में 14 अप्रैल तक 21 दिन का लॉक डाउन हो चुका है और लॉक डाउन के पांच दिन बीतने के बाद इंदौर की एक सोशल वर्कर ने अपनी कला से इंदौर व देश मे बढ़ते कोरोना के प्रभाव के चलते जनजागृति के लिए अपनी कला के जरिये संदेश दिया है। दरअसल, वर्षा सिरसिया नामक सोशल वर्कर ने लॉक डाउन के दौरान अपनी रंगोली कला के जरिये लोगो तक ये मैसेज पहुंचाने की कोशिश की है कि देश के पीएम नरेंद्र मोदी ने 21 दिन का लॉक डाउन लोगो के स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिये जरूरी है। शहर के मुराई मोहल्ला छावनी में रहने वाली वर्षा की रंगोली में रंगोली के 7 रंगों के साथ ही देश के लोगो के भावी स्वस्थ जीवन की कामना है। बता दे कि इंदौर मध्यप्रदेश में कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित है ऐसे में वर्षा ने अपनी कला में दुआ और सतर्कता का अनूठा संगम पेश कर संदेश दिया है कि कोई रोड़ पर ना निकले और घरों में रहकर अपने हाथ बार बार धोये। अपने घर मे बनाई रंगोली में वर्षा ने रंगोली में मास्क पहने चीन के वुहान शहर की एक युवती को दर्शाया है जहां से कोरोना वायरस का फैलाव दुनिया की सरजमी पर हुआ है। इसके साथ ही उन्होंने इस खतरनाक वायरस से बचने के भगवान से धरती को बचाने की दुआ भी की है। इसके साथ ही पीएम के संदेश चित्र को रंगोली में स्थान देकर पीएम मोदी का सजीव चित्रण कर, देश के नक्शे से कोरोना को बाहर निकालने का चित्रण किया है। वर्षा सिरसिया ने अपने नेक इरादों और कला के जरिये बता दिया है कि इंदौर लड़ रहा है प्रदेश लड़ रहा है और देश भी लड़ रहा है और जीत देशवासियों की होगी और कोरोना को हारना होगा। दरअसल, इंदौर की वर्षा ने इसके पहले पुलवामा अटैक को लेकर भी देशभर में अपने देशभक्ति के जज्बे को रखा था और अब वो लोगो से अपील कर रही है यदि कोरोना वायरस का संक्रमण या कोई लक्षण दिखाई दे तो लोग स्वयं खुलकर प्रशासन को जानकारी दे उनकी माने तो यदि वे खुद इसकी चपेट में आएगी तो एक सच्चे देशभक्त के तौर पर वो खुद सबसे पहले जानकारी देकर इलाज कराएगी।