जीतू सोनी 3 जुलाई तक रिमांड पर, कहा-‘सब फर्जी मुक़दमे हैं, उच्चस्तरीय जांच हो’

इंदौर| आकाश धोलपुरे| मोस्टवांटेड जीतू सोनी (Jitu Soni) को क्राइम ब्रांच पुलिस (Crime Branch Police) ने गुजरात से गिरफ्तार कर रविवार को कोर्ट में पेश किया, जहां कोर्ट ने जीतू सोनी को 3 जुलाई तक पुलिस रिमांड दिया है। हनीट्रैप मामले का खुलासा होने के बाद जीतू सोनी पर पुलिस ने 56 से ज्यादा एफआईआर दर्ज कींं थी। वहीं, करीब 40 केसों में उसके साथ परिवार के सदस्यों को आरोपी बनाया है।

कोर्ट में पेश किए जाने क़े बाद पत्रकारों के जवाब देते हुए जीतू सोनी ने कहा कि मुझ पर लादे गए सारे प्रकरण फर्जी मुक़दमे हैं और इस पूरे मामले में उच्चस्तरीय जांच होना चाहिए जिससे सच सामने आए| जीतू पर हनीट्रैप की खबरों के जरिए ब्लैकमेलिंग, मानव तस्करी, देह व्यापार, सामूहिक दुष्कर्म, धोखाधड़ी और लूट के गंभीर आरोप हैं।

जीतू सोनी को रविवार शाम पलासिया पुलिस जिला कोर्ट लेकर पहुंची। जहां उसे न्यायाधीश कमलेश सोनी के समक्ष पेश किया गया। पुलिस ने जीतू को पांच जुलाई तक रिमांड पर सौंपने की मांग की। कोर्ट ने दोनों पक्षों के तर्क सुनने के बाद सोनी को तीन जुलाई तक पुलिस को रिमांड पर सौंप दिया।