MP News: नाइट कर्फ्यू के बावजूद शराब पार्टी कर रहे थे रईसजादे, पुलिस को देख उतरा नशा

पुलिस सामान जब्त कर सभी शराबी युवको को थाने ले आई। जहां पुलिस को पता चला कि जंगल पार्टी का आयोजन इंदौर के साधु वासवानी नगर में रहने वाले पंकज थारवाणी ने किया है जिसके बाद पुलिस ने उस पर आदेश के उल्लंघन के मामले में केस दर्ज कर लिया और कार्रवाई शुरू कर दी।

liqueur

इंदौर, आकाश धोलपुरे। कोरोना (Covid-19) संकट काल मे शराब पीने की सनक का एक ऐसा मामला सामने आया है जिसमें जंगल मे पार्टी मना रहे इंदौर (Indore) के रईसजादों को पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है।कोरोना से बेफिक्र युवाओ ने सिमरोल थाना क्षेत्र में बगैर अनुमति के 20 से ज्यादा की संख्या में एकत्रित होकर कलेक्टर मनीष सिंह (Indore Collector Manish Singh) के ताजा आदेश का उल्लंघन किया है।

दरअसल, शराब (Liqueur) पार्टी इंदौर में सिमरोल थाना क्षेत्र के ग्राम कालाकुंड लुधिया की बताई जा रही है। जहां बकायदा टेंट तंबू लगाकर करीब 50 रईसजादों का ग्रुप कोविड नियमो को धता बताकर डीजे की धुन पर शराब पार्टी कर रहा था। इस मामले की जानकारी जैसे ही सिमरोल पुलिस (Indore Police) को लगी तो पुलिस आनन फानन मौके पर पहुंची पुलिस को अचानक देखकर शराबियों का नशा उतर गया और अफरा तफरी कामाहौल बन गया।

इधर, पुलिस सामान जब्त कर सभी शराबी युवको को थाने ले आई। जहां पुलिस को पता चला कि जंगल पार्टी का आयोजन इंदौर के साधु वासवानी नगर में रहने वाले पंकज थारवाणी ने किया है जिसके बाद पुलिस ने उस पर आदेश के उल्लंघन के मामले में केस दर्ज कर लिया और कार्रवाई शुरू कर दी।

रविवार (Sunday) को जंगल पार्टी मना रहे युवको ने पुलिस की कोई अनुमति नही ली थी जबकि दूसरी ओर शहर मे शादी ब्याह से लेकर अन्य आयोजन में पुलिस की अनुमति जरूरी है लेकिन शराबी और नशाखोरो ने कायदे कानून को ताक पर रख कोरोनाकाल मे शराब पार्टी कर जता दिया है कि रईसजादे है तो मनमानी तो करेंगे।