लॉकडाउन: इंदौर में अब ज्यादा इमरजेंसी के अलावा शहर से बाहर जाने की नही मिलेगी अनुमति

इंदौर।आकाश धोलपुरे।

इंदौर कलेक्टर कार्यालय में कोरोना संक्रमण के दौरान शहर छोड़कर जाने वालों की अनुमति के लिए बड़ी तादाद में लोग कलेक्टर कार्यालय शहर से बाहर जाने के लिए अनुमति मांगने पहुंच रहे हैं। जिसमें बड़ी संख्या में बाहर से पढ़ने आए स्टूडेंट और कई लोग ऐसे हैं जो बीमारी का हवाला देकर शहर से बाहर जाना चाहते हैं । इन सबके बीच इंदौर एडमिनिस्ट्रेशन ने साफ किया है कि लोगों ने दी जा रही अनुमति का गलत इस्तेमाल किया और सीहोर में डोडी क्षेत्र में 300 लोगो की भीड़ जमा हो गई। जिसके बाद हरकत में आए प्रशासन ने अब साफ कर दिया है कि किसी के माता पिता या बहुत ही नज़दीकी परिजन के निधन वाले मामले के लिहाज से अब सिर्फ उन्हीं लोगों को अनुमति दी जा रही है जिनकी वास्तविक मजबूरी है।

वही प्रशासन ने अन्य लोगों से अपील कर कहा कि वह बे वजह इंदौर छोड़कर बाहर जाने की अनुमति की मांग ना करें। एडीएम बीबीएस तोमर ने बताया कि लोग ना काफी वजह बताकर शहर से बाहर मूवमेंट की मांग कर रहे लेकिन अब विशेष परिस्थितियों में ही अनुमति दी जाएगी लिहाज़ अब ऐसे लोग बाहर जाने की अनुमति की मांग ना करे जो बेवजह ही बाहर जाना चाह रहे है। वही प्रशासनिक संकुल में बड़ी संख्या में स्टूडेंट्स और लोग अभी भी अनुमति की मांग करने के लिए पहुंच रहे है जाहिर ऐसे में अब प्रशासन ऐसे मामलों में भी कठोर गाइड लाइन तैयार कर सकता है ताकि लोग प्रशासनिक संकुल में आस पास भी कोरोना के कहर के दौरान नजर ना आए और लोग जहां रह रहे है वही पर महफूज रहे।