नगर निगम के सफाई दरोगा को लोकायुक्त पुलिस ने रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया

Indore Lokayukta Police Action : रिश्वतखोर अधिकारी कर्मचारी रोज रंगे हाथ पकड़े जा रहे हैं बावजूद इसके उनके अन्दर किसी भी कार्यवाही का डर नहीं है, आज एक और भ्रष्ट कर्मचारी रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार हुआ है। ट्रैप की कार्यवाही इंदौर लोकायुक्त पुलिस ने की है।

महिला सफाई कर्मी ने की लोकायुक्त में शिकायत

लोकायुक्त पुलिस इंदौर से मिली जानकारी के मुताबिक इंदौर नगर निगम (Indore Municipal Corporation) के वार्ड क्रमांक 50 में पदस्थ सफाई कर्मचारी रेखा बाई ने अपने बेटे विमल करोसिया के माध्यम से एक शिकायती आवेदन लोकायुक्त एसपी कार्यालय में दिया था, जिसमें आवेदक ने बताया जोन क्रमांक 19 के वार्ड क्रमांक 50 में पदस्थ प्रभारी सफाई दरोगा संजय संगत उसे परेशान कर रहा है और रिश्वत की मांग कर रहा है।

हाजिरी भरने के लिए प्रति महीने की मांगी थी रिश्वत

आवेदक ने कहा कि दरोगा सफाई कर्मचारियों से काम करवाता है और रोज हाजिरी भर कर जोन कार्यालय में भेजता है जिसके आधार पर सफाई कर्मचारियों का वेतन निकलता है। दरोगा संजय ने रेखा बाई से दोनों समय की पूरी हाजिरी लगाने के बदले 5500/- रुपये महीने की रिश्वत की मांग की।

दो महीने के 11,000/- रुपये मांग रहा था

रेखा बाई का अक्टूबर एवं नवंबर का वेतन निकल चुका था। अतः आरोपी दरोगा द्वारा दिसंबर के वेतन के भुगतान से पहले दो महीने की रिश्वत की राशि 11,000/- रुपये की रिश्वत मांग रहा था।

रिश्वत लेते लोकायुक्त ने दरोगा को किया ट्रैप

लोकायुक्त कार्यालय ने शिकायत को गंभीरता से लिया और आज आवेदक को रिश्वत की राशि लेकर दरोगा संजय संगत के पास भेजा, जैसे ही रिश्वत की राशि 11,000/- रुपये आवेदक ने दरोगा संजय संगत को दी वहां पहले से मौजूद लोकायुक्त पुलिस ने उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया ।