लव सेक्स और धोखा : लव मैरिज के डेढ़ साल बाद ही फिर प्रेम में पड़ी पत्नी का खौफनाक कारनामा, CCTV ने खोले राज

इंदौर, आकाश धोलपुरे। लाल मिर्ची झोंककर इंदौर के एक युवक की हत्या की मर्डर मिस्ट्री पुलिस ने सुलझा ली। दरअसल, अंधे कत्ल के पीछे मृतक की पत्नि का बड़ा हाथ है लेकिन कानून के हाथ लगे सीसीटीवी फुटेज ने ब्लाइंड मर्डर का खुलासा 6 दिनों में ही कर दिया। दरअसल, इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र के पोलोग्राउंड क्षेत्र में 13 अक्टूबर की सुबह आंखों में मिर्ची झोंककर कर 29 साल के आकाश पिता यशवंत मिडकिया निवासी वाल्मीकि नगर की चाकुओ से 6-7 वार कर हत्या कर दी थी। हत्या की ये गुत्थी इतनी उलझी थी कि पुलिस को ब्लाइंड मर्डर का खुलासा करने के लिये सीसीटीवी फुटेज पर इन्वेस्टिगेशन आधारित करनी पड़ी। हालांकि ब्लाइंड मर्डर का खुलासा हो चुका जिसमे मृतक की पत्नि के अवैध संबंध का मामला सामने आया वही उसके नए प्रेमी और तीन साथियों सहित पुलिस ने 5 लोगो को गिरफ्तार कर लिया है।

Dabra news : रेल रोकने पहुंचे सौ से अधिक किसानों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

सबसे पहले इस पूरे मामले की शुरुआत में जाते है। दरअसल, उज्जैन में आकाश और वर्तिका स्कूलिंग के दौरान प्यार में पड़ जाते है और कुछ साल पहले ही अपने प्यार को सही अंजाम तक पहुंचाने के लिए वो प्रेम विवाह के बंधन में बंध जाते है। हालांकि शुरुआत में वैवाहिक जीवन ठीक चल रहा था लेकिन अचानक आर्थिक तंगी की मार और कर्ज में डूब रहे आकाश को उसकी मजबूरी इंदौर ले आती है। जहां आकाश टेलीपरफार्मेंस कंपनी में वर्क फ्रॉम के जरिये कमाने लगा वही उसकी पत्नि देवास के अमलतास हॉस्पिटल में एचआर मैनेजर के पद पर कार्य करने लगी। रोज सुबह आकाश अपनी पत्नि को एलआईजी चौराहे पर अपनी एक्टिवा से छोड़ने जाता था जहां से पत्नि वर्तिका बस के जरिये अस्पताल में ड्यूटी के लिए पहुंचती थी। इधर, डेढ़ साल पहले बचपन के प्यार से लेकर प्रेम विवाह के बंधन में बंधे पति-पत्नि के बीच टकराव की स्थिति उस समय बनने लगी जब वर्तिका की जिंदगी में अमलतास हॉस्पिटल में काम करने वाला मैनेजर मनीष पिता रामेश्वर लाल शर्मा आया।

रिश्वत लेते लोकायुक्त के हत्थे चढ़ा BRC, आफिस के ही एकाउटेंट से ले रहा था रिश्वत

देवास के बांगर गांव में में रहने वाले मनीष की नजदीकियां वर्तिका से बढ़ने लगी और इस बात की भनक वर्तिका के पति आकाश को लगी। लिहाजा, इसके बाद पति पत्नि के बीच विवाद होने लगे मामला यहां तक बढ़ गया कि आकाश ने देवास जाकर मनीष से विवाद भी किया था। इधर, पति का बर्ताव पत्नि को नागवार गुजरने लगा लिहाजा, एक साजिश रची गई जिसमें पत्नि वर्तिका और उसके कथित प्रेमी मनीष शर्मा ने पति आकाश मिडकिया को हटाने की ठान ली। जिसके बाद 13 अक्टूबर को बाइक सवार दो लोगो ने आंखों में मिर्ची झोंक आकाश की सरेराह हत्या कर डाली और फरार हो गए।

सीसीटीवी की मदद से सुलझी हत्या की गुत्थी

13 अक्टूबर की सुबह रोज की ही तरह आकाश, वर्तिका को एलआईजी चौराहा पर छोड़ने गया लेकिन जब वो वापस लौट रहा था तब ही उसका पीछा कर रहे दो बाइक सवार अर्जुन मंडलोई और अंकित उर्फ बिट्टू पंवार ने आकाश को बाणगंगा थाना क्षेत्र के पोलोग्राउंड पर रोका और फिर षडयंत्र के मुताबिक आकाश की आंखों में मिर्ची डालकर चाकुओ से 6-7 वार किए गए जिसके बाद घटना स्थल पर आकाश की मौत हो जाती है।

Jabalpur News : मॉर्निंग वॉक पर निकले प्रभारी प्राचार्य 8 दिन से लापता, पड़ोसियों से हुआ था विवाद

इधर, पुलिस पर इस ब्लाइंड मर्डर के खुलासे का दबाव पड़ने लगा लिहाजा, पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खंगालने शुरू किए इसके बाद बाइक और नकाबपोश बदमाशो का पीछा करने के लिए सीसीटीवी फुटेज की मदद ली गई। वही जब सीसीटीवी फुटेज की कड़ियाँ जुड़ी तो पता चला के गांव के रास्ते दोनों हत्यारे उज्जैन पहुंचे जहां उन्होंने अपना नकाब उतारा और फिर इंदौर पुलिस ने उज्जैन पुलिस की मदद से गाड़ी का नम्बर निकलवाने के साथ ही आरोपी अर्जुन और अंकित पहचान की। जिसके बाद दोनों को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो पता चला कि हत्या की साजिश पत्नि वर्तिका और मनीष दुबे ने रची है और मनीष ने सबसे पहले अस्पताल के हाउसकीपिंग इंचार्ज जीतू उर्फ जितेंद्र पिता लीलाधर वर्मा जामगोद देवास का सहयोग लिया और हत्या के दिन वो प्लान के तहत राजस्थान चला गया। वही जीतू ने अर्जुन और अंकित के सहारे वर्तिका के पति आकाश को रास्ते से हटा दिया।

Bhind news : मिट्टी खोदते समय टीला धसने से दादी-पोती की मौत, घर सजाने की थी तैयारी

इंदौर पुलिस ने देवास पुलिस की मदद से अमलतास हॉस्पिटल में पनप रही मनीष और वर्तिका की दोस्ती से भी पर्दा उठाया। फिलहाल, वर्तिका का बचपन का प्यार तो ईश्वर को प्यारा हो गया है लेकिन नए संबंध के चक्कर मे अब वर्तिका भी सलाखो के पीछे है। जहां मनीष, जीतू, अर्जुन और अंकित के साथ ही पुलिस रिमांड लेकर उससे कड़ी पूछताछ कर रही है। इंदौर डीआईजी मनीष कपूरिया ने 6 दिन में हत्या का खुलासा करने वाली पूरी टीम, उज्जैन व देवास पुलिस की मेहनत को सराहा और माना कि सीसीटीवी फुटेज की मदद से ही हत्या का खुलासा हो पाया है नही तो पुलिस के लिये चुनौतियां बड़ी थी। इंदौर डीआईजी ने बताया कि 100 से अधिक सीसीटीवी फुटेज खंगाले गए और हत्याकांड का खुलासा करने के लिए पूरी टीम तल्लीनता से जुटी रही। वही डीआईजी ने आम लोगो से अपील भी की है कि शासकीय सीसीटीवी कैमरों के अलावा लोगो को अपने घरों पर सीसीटीवी कैमरे लगवाना चाहिये ताकि वारदातो पर बहुत हद लगाम लगाई जा सके।

PM Kisan 2021: किसानों के लिए खुशखबरी, जल्द आने वाली है 10वीं किस्त! ऐसे करें चेक

फिलहाल, इस पूरे मामले में आकाश की हत्या के 5 आरोपी है जिनसे फिलहाल, पुलिस की पूछताछ जारी है और माना जा रहा है कि आकाश के घर से लेकर उसकी हत्या तक के कई दफन राजो का खुलासा जल्द ही हो सकता है। फिलहाल, इस घटना के सामने आने के बाद पति – पत्नि के रिश्तों में बढ़ती दूरियां और विवाद को लेकर कई सवाल उठ रहे है जिनके जबाव फिलहाल, मिलना मुश्किल है।