प्रेमिका का अपहरण करने वाला आरोपी दोस्तों सहित गिरफ्तार, पुलिस खंगाल रही रिकॉर्ड

ऐसे में अब पुलिस के लिए युवती के बयान मायने रखते हैं क्योंकि आरोपी प्रेमी भी है कथित पति भी और एक अपहरणकर्ता भी।

इंदौर, आकाश धोलपुरे। अपनी प्रेमिका का दोस्तों के साथ अपहरण (kidnapping) करने वाले प्रेमी को इंदौर पुलिस (Indore Police) ने दोस्तों सहित गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस को झांसा देने के लिए मुख्य आरोपी के दोस्त लड़की को भोपाल ले जाने की बात कहते रहे लेकिन पुलिस ने मुख्य आरोपी प्रेमी रितेश के मोबाइल लोकेशन के आधार पर उसे ट्रेस कर लिया और गिरफ्तार कर लिया।

दो दिन पहले इंदौर (Indore News) के कनाड़िया थाना क्षेत्र इवेंट का काम कर लौट रही एक युवती के अपहरण की शिकायत का मामला दर्ज कराया गया था। अपहृत की सहकर्मी ने पुलिस को शिकायत कर कहा था कि वो और उसकी दोस्त इवेंट का काम कर कनाडिय़ा रोड स्थित कैलिफोर्निया सिटी से इनोवा कार में लौट रहे थे। तभी सेवाकुंज अस्पताल के पास एक अन्य कार चालक ने उनकी कार के सामने कार अड़ाई और उसमें से रितेश राजपूत निवासी पालदा और उसके साथी उतरे और दोनों युवतियों और ड्रायवर इंदर के साथ मारपीट कर उसकी सहेली का अपहरण कर ले गए। शिकायत के बाद जब पुलिस ने तफ्तीश शुरू की तो रितेश से जुड़े अन्य लोगों ने जानकारी दी कि वो रितेश, युवती को भोपाल ले गया है। इसके बाद पुलिस ने मामले में इन्वेस्टिगेशन शुरू की।

ये भी पढ़ें – MP News : बुलडोजर कार्रवाई रोकने लगाई जनहित याचिका HC ने खारिज की

जानकारी के मुताबिक पालदा में रहने वाले रितेश राजपूत का इवेंट में काम करने वाली युवती से अफेयर है। दो दिन पहले उसने उसकी प्रेमिका को कनाड़िया रोड़ स्थित सेवाकुंज अस्पताल के पास से कार रोककर अपहरण लिया था। जिसकी शिकायत उसकी सहकर्मी सहेली ने कनाड़िया थाने में कराई थी। इधर, इस संगीन मामले में पुलिस ने कई तथ्य जुटाए और अंततः जब रितेश के मोबाइल नम्बर को ट्रेस किया गया तो लोकेशन इंदौर के एक निजी होटल की मिली। जहां पुलिस ने दबिश देकर मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने अपहरण के दौरान  रितेश का साथ देने वाले दो अन्य आरोपियों को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

ये भी पढ़ें – MP Weather : 24 अप्रैल तक 11 जिलों में बूंदाबादी की संभावना, बिजली गिरने के आसार, इन जिलों में लू का अलर्ट

बताया जा रहा है कि रितेश राजपूत पहले भी ऐसी हरकत इसी युवती के साथ कर चुका है। जो जानकारी पुलिस को हासिल हुई है उसके हिसाब से आरोपी रितेश और युवती के बीच प्रेम संबंध है यहां तक कि दोनों ने शादी भी कर ली है लेकिन वो साथ नहीं रहते। आरोपी प्रेमी रितेश, युवती को इंदौर की एक होटल में ले गया और पुलिस भोपाल की लीड पर काम करती रही इस बीच पुलिस इन्वेस्टिगेशन में रितेश और अपहृत युवती के मोबाइल की लोकेशन निकाली गई तो पता चला कि वो इंदौर के एक निजी होटल में है। जहां से पहले युवती को मुक्त कराया गया और फिर रितेश को अपहरण के मामले में गिरफ्तार कर लिया गया।

डीसीपी सम्पत उपाध्याय ने बताया कि मुख्य आरोपी की मोबाइल लोकेशन के आधार पर उसे ट्रेस किया गया है और उस पर अपहरण सहित अन्य धाराओ में प्रकरण दर्ज किया गया है। पुलिस, अब मुख्य आरोपी रितेश राजपूत सहित उसके साथियों आपराधिक रिकार्ड को भी खंगाल रही है।

हालांकि, अपहरण की इस मिस्ट्री को पुलिस सुलझा जरूर रही है लेकिन इस मामले में उलझन ये है कि जिस युवती का अपहरण किया गया है वो युवती आरोपी रितेश की प्रेमिका है और वो दुनिया की नजरों से छिपकर शादी भी कर चुके हैं। ऐसे में अब पुलिस के लिए युवती के बयान मायने रखते हैं क्योंकि आरोपी प्रेमी भी है कथित पति भी और एक अपहरणकर्ता भी। फिलहाल, इस अनूठी प्रेम कहानी की मिस्ट्री का अंत क्या होता है ये पुलिस की आगे की कार्रवाई तय करेगी क्योंकि फिलहाल, पुलिस ने मुख्य आरोपी पर अपहरण का केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार किया है।