BJP नेता की हत्या के विरोध में सड़कों पर उतरे ग्रामीण, चक्काजाम, भारी पुलिस बल तैनात

madhya-pradesh-indore-indore-bjp-worker-murder-village-people-jam-indore-ujjain-road

इंदौर।

रविवार को लोकसभा चुनाव के दौरान हुई इंदौर में भाजपा कार्यकर्ता की हत्या के बाद प्रदेश में बवाल मच गया है। वही घटना के बाद परिजनों और ग्रामीणों में जमकर आक्रोश व्याप्त है।इसी के चलते आज सोमवार को परिजनों और ग्रामीणों ने सड़कों पर उतरकर पालिया चौराहा पर जमकर प्रदर्शन किया।इस दौरान उन्होंने इंदौर-उज्जैन रोड पर चक्काजाम कर दिया है और लगातार मंत्री तुलसी सिलावट के खिलाफ नारे बाजी करते रह। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची है और भीड़ को हटाने का प्रयास किया है।  वही पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज भी परिजनों से मिलने इंदौर पहुंचे है और परिजनों को पांच लाख आर्थिक सहायता देने की बात कही।

दरअसल, रविवार शाम को हुई घटना के बाद से ही ग्रामीणों और परिजनों में भारी आक्रोश व्याप्त हो गया है। वे लगातार आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे है। इसी विरोध के चलते आज सोमवार सुबह ग्रामीण अरविंदो अस्पताल पहुंचे और यहां पर नारेबाजी की। इसके बाद पालिया चौराहे पर बने टोल टैक्स पर पहुंचकर चक्काजाम कर दिया। इस वजह से इंदौर-उज्जैन रोड पर लंबा जाम लग गया। करीब एक घंटे से वाहन यहां फंसे रहे। बसों में बैठे यात्री गर्मी में परेशान होते रहे। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और उन्हें हटाने का प्रयास कर रही, लेकिन ग्रामीण लगातार कार्रवाई की मांग पर अडे हुए है।वही इस दौरान परिजनों से मिलने शिवराज अस्पताल पहुंचे और गोली के छर्रे लगने से घायल बेटे और पत्नी का हाल-चाल जाना। दोनों की हालत गंभीर बताई जा रही है।

एक वोट के लिए भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी

इसके बाद मीडिया से चर्चा के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार को जमकर घेरा। शिवराज ने कहा कि  मध्यप्रदेश चुनाव में हिंसा की ऐसी घटना कभी नहीं हुई। भाजपा कार्यकर्ता नेमीचंद जी ने जब भाजपा को वोट देने की बात कही तो कांग्रेस के लोगों ने देख लेने की धमकी दी और शाम को घर में घुसकर गोली मार दी। नेमीचंद जी को बचाने में उनकी पत्नी और एक बेटा गंभीर रूप से घायल हैं। कमलनाथ प्रदेश को कहां ले जाना चाहते हैं? कांग्रेस की सरकार जब से आई है, राजनैतिक विद्वेष की भावना से काम कर रही है। भाजपा कार्यकर्ताओं पर केस बनाये जा रहे हैं।

पांच लाख की सहायता का किया ऐला��

शिवराज ने कहा कि मध्यप्रदेश को हम बंगाल नहीं बनने देंगे। गुंडातंत्र को हावी नहीं होने देंगे। लोगों को डराया, धमकाया जा रहा है। यह भारतीय जनता पार्टी किसी कीमत पर सहन नहीं करेगी।स्व. नेमीचंद जी के परिजनों को रु. 5 लाख की सहायता राशि बीजेपी की तरफ से तत्काल दी जाएगी। इसके अलावा परिवार की हरसंभव मदद पार्टी द्वारा की जाएगी।