किन्नर अखाड़ा की महामंडलेश्वर त्रिपाठी ने कहा- ”राजनेता, गरम तवे पर रोटी ना सेंके”

इंदौर। आकाश धौलपुरे। 

सीएए के मुद्दे पर राजनीतिक पार्टियां गरम तवे पर अपनी राजनीतिक रोटिंया सेक रही हैं ये कहना इंदौर में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने आई किन्नर अखाड़ा की महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण त्रिपाठी का। उन्होंने इंदौर में मीडिया से चर्चा करते हुए कहा कि नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर सरकार बंटी हुई दिखती है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया पर पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को ताजा मुद्दे पर अलग-अलग बातें करते हुए दिखाई दे रहे है। वही त्रिपाठी ने जामिया यूनिवर्सिटी में जो हुआ उसकी खिलाफत करते हुए निंदा की और कहा कि मैं यदि महिला होती और मेरे बच्चो के साथ यदि पुलिस इस तरह का रवैया अपनाती तो मुझे भी दुःख होता है अब पुलिस ने किसके कहने पर ऐसा कदम उठाया है ये जांच का पहलू है। लक्ष्मीनारायण त्रिपाठी ने की ऐसा नही होना चाहिए यदि  कानून में मतभेद है तो सभी पार्टियों ओर समाज को साथ मे लेकर आगे बढ़ना चाहिए।भारत सभी का है, देश की आजादी में सबने बलिदान दिया है वही उन्होंने सभी पार्टियों से अपील करते हुए कहा इस मामले में राजनीति न करे ओर इस मुद्दे पर राजनेता गरम तवे पर अपनी रोटियां न सेंके। किन्नर अखाड़े की महामंडलेश्वर लक्ष्मीनारायण त्रिपाठी के ताजा बयान के सियासत गरमा सकती है क्योंकि उन्होंने पीएम मोदी से गुजारिश की है वो सभी पार्टियों को लेकर सहमति बनाये।