सूरत कोचिंग अग्निकांड के बाद प्रदेश सरकार अलर्ट, मंत्री पटवारी ने कलेक्टरों को दिए ये निर्देश

1973
minister-jitu-patwari-sees-security-arrangements-in-coaching-centers

इंदौर।

गुजरात के सूरत में कोचिंग सेंटर में हुए अग्निकांड के बाद प्रदेश सरकार भी अलर्ट हो गई।बच्चों की सुरक्षा को लेकर सरकार को अब चिंता सताने लगी है और ऐसा हादसा मध्यप्रदेश में ना हो इसके लिए अभी से सतर्कता बरतना शुरु कर दिया है। इसी सिलसिले में आज शनिवार को कमलनाथ सरकार के कैबिनेट मंत्री जीतू पटवारी इंदौर स्थित भंवरकुआं पहुंचे।  पटवारी ने यहां कोंचिंग सेंटरों का निरीक्षण किया । 

जीतू ने कहा कि हाल ही में सूरत में हुयी ह्रदयविदारक घटना से हम सभी को सबक लेने की जरूरत है। इसी क्रम में पूरे प्रदेश के शिक्षण संस्थान की जांच के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा इन शिक्षण संस्थानों में अध्यनरत युवा हमारे देश का भविष्य है। अप्रिय घंटना से पहले ही एहतियातन सुरक्षा हम सभी का दायित्व है। यहां सुरक्षा के प्रति कई संस्थानों की गंभीर लापरवाही सामने आने पर संचालकों को फटकार लगाते हुये अधिकारियों को सभी संस्थानों का सुरक्षा ऑडिट करने के निर्देश भी दिये हैं।

बता दें कि इस इलाके में सबसे ज्यादा कोचिंग सेंटर हैं। मंत्री पटवारी ने कोचिंग संस्थानों में सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेकर कोचिंग संचालकों को आवश्यक व्यवस्थाओं का पालन करने के लिए कहा है। इस दौरान पटवारी ने सभी कलेक्टरों को निर्देश जारी करते हुए कहा है कि कोचिंग संस्थानों में फायर सेफ्टी में लापरवाही नहीं बरतने की हिदायत देते हुए संस्थानों की जांच करने के निर्देश दिए हैं। सूरत में आग से बच्चों की मौत पर भी दुख जताया है।

इधर भोपाल कमिश्नर ने बनाई जांच के लिए चार टीमें

वही इस हादसे के बाद भोपाल की संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव ने बड़ा कदम उठाया है। उन्होंने बच्चों की सुरक्षा के लिए शहर में चार टीमें बनाई, जो पूरे भोपाल की कोचिंग संस्थानों के बारे में ब्यौरा इकट्ठा करेंगे और जो उन्हें सौंपेंगें। 28 मई तक कोचिंग संस्थानों को संभाग आयुक्त द्वारा दिए गए सुरक्षा मानकों का पालन करना जरूरी होगा।इस संबंध में संभागायुक्त ने निर्देश जारी कर दिए है।

गौरतलब है कि शुक्रवार देऱ शाम डायमंड सिटी के नाम से मशहूर सूरत के सरथना इलाके में एक व्‍यवसायिक इमारत के तीसरे मंजिल पर चल रहे कोचिंग सेंटर में आग लग गई थी जिसमें के करीब 20 स्‍टूडेंट्स की मौत हो गई । विनाशकारी आग से बचने के लिए करीब एक दर्जन स्‍टूडेंट इमारत के तीसरे और चौथे फ्लोर से कूद गए। जिसमें करीब 20  लोग घायल हो गए।हादसे के बाद से पूरे सूरत में मातम नजर आ रहा है वहीं मामले की जांच जारी है। घटना के बाद खबर है कि पुलिस ने अब तक कोचिंग संचालक को गिरफ्तार किया है वहीं तीन लोगों के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज किया गया है। वहीं शहर में हर तरह की कोचिंग क्लासेस के संचालन पर फिलहाल रोक लगी दी गई है। क्लासेस अब तभी शुरू होंगी जब उनमें फायर सेफ्टी की व्यवस्था होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here