इंदौर, आकाश धोलपुरे| इंदौर (Indore) में शुक्रवार को मध्यप्रदेश (Madhyapradesh) के विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा (Omprakash Saklecha) ने उद्योगपतियों के साथ आई टी सेक्टर के जानकारों से बातचीत की। इस दौरान उन्होंने कोविड काल के मुश्किल भरे दौर में आई टी सेक्टर (IT Sector) पर प्रभावों को लेकर पूछे गए सवालों के जबाव भी दिये।

इंदौर में मीडिया से चर्चा कर उन्होंने बताया कि कैबिनेट बैठक के दौरान सीएम शिवराज सिंह चौहान ने स्पष्ट कर दिया है कि किसी भी परिस्थिति में उद्योगों से जुड़े लोगों का मूवमेंट 24 घण्टे सातो दिन तक कर सकता है और उन पर कर्फ्यू के दौरान कोई भी प्रतिबंध नही है। वही मंत्री सकलेचा ने बताया कि प्रदेश के अलग अलग शहरों मे तेजी से आईटी पार्क विकसित किये जा रही है।प्रदेश के जबलपुर में आईटी पार्क बन चुका और ग्वालियर में जल्द ही आई टी पार्क विकसित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि कोरोना ने ये बताया है कि टियर 2 और टियर 3 सिटी में भी आईटी की ग्रोथ हो।

मंत्री ने कहा कि जहां हाइली डेनसिटी वाला एरिया था वहां कोरोना तेजी से फैला और जहां कम थी वहां कम फैला। वही उन्होंने इंडस्ट्री में एग्जिट पॉलिसी को सही मानते हुए कहा कि जल्द ही वर्तमान की जरूरत के अनुरूप जल्द उद्योग में एग्जिट पॉलिसी लागू की जाएगी। दिसम्बर माह में प्रदेश में नई उद्योग नीति लाने का भरोसा दिलाते हुए मंत्री सकलेचा ने उद्यमियों का विश्वास भी बढ़ाया।