कैबिनेट मंत्री उषा ठाकुर के बयान पर विधायक संजय शुक्ला ने कसा तंज

कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला ने कहा कि इस तरह के बयान से सिर्फ अफवाह फैलाई जा रही है। अगर सिर्फ ताबीज से ही लोग स्वस्थ हो सकते तो कोरोना में लाखों लोगों की जान नही जाती।

विधायक

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर के एक अस्पताल में भर्ती पर्यटन व संस्कृति मंत्री ऊषा ठाकुर (usha Thakur) के “टंट्या मामा के ताबीज से स्वस्थ होते हैं बीमार लोग” बयान को लेकर कांग्रेस विधायक (Congress Mla) संजय शुक्ला तंज कसा है।  उनका कहना है कि इस तरह के बयान से सिर्फ अफवाह फैलाई जा रही है। अगर सिर्फ ताबीज से ही लोग स्वस्थ हो सकते तो कोरोना में लाखों लोगों की जान नही जाती।

यह भी पढ़े.. इस IAS अधिकारी ने दिया इस्तीफा, राज्य के मुख्य सचिव को भेजा

दरअसल मंत्री उषा ठाकुर इस तरह के बयान पहले भी कई बार दे चुकी है। कोरोना के दौरान भी ऊषा ठाकुर ने कहा था की शंख बजाने यज्ञ- हवन करने से कोरोना नहीं होता है। वही कांग्रेस विधायक संजय शुक्ला का कहना है की ताबीज से ही लोग अगर स्वस्थ होते तो कोरोना में इतने लोगों की जान नही जाती।

यह भी पढ़े.. MP पंचायत चुनाव: अधिकारियों-कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, लेनी होगी अनुमति, निर्देश जारी

वही शुक्ला ने कहा की मंत्री जी के इस भ्रमित बयान के बाद यह बयान खुद मंत्री जी पर ही खुद लागू हो गया है। वह अस्वस्थ हो गई है और अस्पताल में भर्ती है। वही इस भ्रमित बयान से आम जनता और गरीबों का क्या होगा। अगर ताबीज से व्यक्ति ठीक हो जाता तो लाखो करोड़ों रुपए खर्च करने की जरूरत ही नहीं थी। पहले भी मंत्री जी कोरोना के समय मां अहिल्या की प्रतिमा के नीचे बैठकर हवन यज्ञ करके कह रही थी । हवन, यज्ञ और शंख बजाने से कोरोना नही होगा। शुक्ला का कहना है की अगर इस भ्रमित बयान से किसी की जान जाती है तो उसका जिम्मेदार कोन होगा।