Indore News: एप के विरोध में आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं का धरना, बंद करने की मांग

इसे लेकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि दो एप पर कार्य हो रहे है, जिनमें से एक एप सम्पर्क एप को बंद करने की मांग की गई। साथ ही इसके लिए उन्होंने 10 दिनों का समय दिया है।

Sanjucta Pandit
Published on -
employees News

Indore News : इंदौर के कलेक्ट्रेट चौराहे पर मध्य प्रदेश के आंगनवाड़ी कार्यकर्ता संघ ने एक एप्लिकेशन बंद करने के विरोध में धरना दिया है। इसमें बड़ी संख्या में आंगनवाड़ी कार्यकर्ता शामिल हुई हैं, जो अपनी मांगों को उठाने के लिए सड़क पर आई हैं। इसे लेकर आंगनवाड़ी कार्यकर्ता से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि दो एप पर कार्य हो रहे है, जिनमें से एक एप सम्पर्क एप को बंद करने की मांग की गई। साथ ही इसके लिए उन्होंने 10 दिनों का समय दिया है।

मांग

  • संपर्क एप पर कार्य न कराया जाए।
  • संपर्क एप पर कार्य न करने पर मानदेय में कटौती या अन्य कोई कार्यवाही नहीं की जानी चाहिए।
  • अधिकारियों द्वारा किए जा रहे व्यवहार को ठीक किया जाए।
  • मिनी आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को फूल किए जाएं और केंद्र के अनुसार 10 दिवस में फूल करने की कार्यवाही की जाए।
  • कार्यकर्ता पद पर सहायताओं को पदोन्नति आयु में सीमा का बंधन हटाया जाए।
  • आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को सुपरवाइजर पद पर अनुभव और योग्यता के अनुसार आयु सीमा के बंधन को हटाते हुए तरक्की दी जाए।
  • 11 जून 2023 को हुई 5 लाख का स्वास्थ्य और दुर्घटना बीमा के आदेश कर उन्हें लागू किया जाए।

जिला अध्यक्ष ने कही ये बात

जिला अध्यक्ष आंगनवाड़ी कार्यकर्ता संघ सम्बंधित भारतीय मजदूर संघ राजकुमारी गोयल ने कहा कि मध्य प्रदेश में महिला बाल विकास विभाग के अंतर्गत कार्यरत प्रदेश की समस्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, मिनी कार्यकर्ता केंद्र और राज्य द्वारा दिए गए सभी प्रकार के विभागीय कार्य को पूर्ण निष्ठा से करती हैं। वहीं, अन्य विभाग में भी उनके माध्यम से कार्य कराए जा रहे हैं। आगे उन्होंने कहा कि एक ओर सरकार हमें स्कीम वर्कर बताकर हमारी सुविधाओं का ध्यान नहीं रख रही है, तो वहीं दूसरी ओर हमारे ऊपर विभागीय अधिकारियों द्वारा सारे शासकीय नियम लागू किए जाते हैं।

प्रदेशभर में आंदोलन जारी

वहीं, भारतीय मजदूर संघ के आह्वान पर प्रदेश भर में सभी जिला मुख्यालय पर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा ये आंदोलन किया जा रहा है- मुरारी राठौर, विभाग प्रमुख भारतीय मजदूर संघ, इंदौर संभाग

इंदौर से शाकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News