सरकारी अस्पताल की लापरवाही, शव बना कंकाल, जानकारी मिलने पर आनन फानन में हुई कार्रवाई

इंदौर, आकाश धोलपुरे। प्रदेश के सबसे बड़े शासकीय अस्पताल एम. वाय. इंदौर में एक बार फिर बड़ी लापरवाही सामने आई है। जहाँ एक अज्ञात शव के 10 दिन से भी ज्यादा समय पोस्मॉर्टम भवन में पड़े पड़े ही कंकाल के रूप में तब्दील हो गया। लापरवाही का आलम ये है कि स्टेचर पर रखी हुई लाश अब पूरी तरह से सड़ गई है।
इस मामले की जानकारी एम.वाय. अस्पताल के अधीक्षक पी.एस. ठाकुर के पास पहुंची तो अधीक्षक ने पोस्मॉर्टम रूम के इंचार्ज को एक नोटिस लिख पूरी जानकारी मांगी है और यदि जानकारी में लापरवाही बरतने की बात सामने आती है को अधीक्षक ने कार्यवाही की बात की है।

हैरानी की बात ये है कि शव मर्चुरी भवन में सड़कर गल गया है जबकि हर रोज शवों को रूम से बाहर निकालने के कर्मचारी अंदर जाते रहे है इतना ही नही पोस्टमार्टम के लिए डॉक्टर भी उसी रूम में कई दफा गए है लेकिन किसी ने भी अज्ञात शव की न तो सुध ली और ना ही किसी जिम्मेदार को इसकी जानकारी दी। अब जब अज्ञात शव का वीडियो मिडिया में आया तो एम.वाय. अस्पताल प्रबंधन में खलबली मच गई है। आनन फानन एम. वाय. अधीक्षक पी.एस.ठाकुर ने पहले तो उस लाश को वह से हटवाया और नगर निगम को पत्र लिखकर लाश का अंतिम संस्कार करने को कहा है। वही पीएम रूम के इंचार्ज को भी एक कारण बताओ नोटिस जारी किया है बता दे कि इसके पहले भी वर्ष 2010 में भी इसी तरह से लाश के सड़ने का मामला सामने आ चुका है तब भी मीडिया ने ही सड़ी हुई लाश के मामले में एम. वाय. अस्पताल और निगम प्रशासन को जानकारी दी थी।