अब केन्द्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के चचेरे भाई की सड़क हादसे में मौत

Narendra Singh Tomar

इंदौर।आकाश धोलपुरे।केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को दोहरा सदमा लगा है। देर रात उनके चचेरे भाई की सड़क हादसे में मौत हो गई।इससे पहले शनिवार सुबह उनके छोटे भाई की इलाज के दौरान दिल्ली में मौत हो गई थी। वे  कैंसर से पीड़ित थे । ग्वालियर में उनका अंतिम संस्कार किया गया था। 

दरअसल, शनिवार रात को सामने आया मामला इंदौर के थाना तेजाजी नगर का है जहां रात में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के चचेरे भाई को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार कर बुरी तरह से जख्मी कर दिया और अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। जानकारी के मुताबिक शनिवार रात थाना तेजाजी नगर क्षेत्र के राला मंडल गेट के सामने गब्बर तोमर टहल रहे थे उसी दौरान कोई वाहन ने उन्हें टक्कर मार दी।

टक्कर इतनी जोरदार थी कि मौके पर ही गब्बर तोमर बेसुध हो गए थे इसके बाद परिजन उन्हें इलाज के लिए अस्पताल ले गए जहां उन्होंने दम तोड़ दिया। गब्बर तोमर के परिवार के शेलेंद्र तोमर ने बताया की वो अपने घर से सड़क पार कर रिश्तेदार के घर जा रहे थे उसी दौरान सड़क हादसा हो गया। शैलेंद्र तोमर ने बताया कि 75 साल के गब्बर तोमर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के कजिन ब्रदर है।

मूलतः मुरैना निवासी गब्बर तोमर इंदौर मे राला मंडल क्षेत्र में निवासरत थे। शनिवार रात अज्ञात कार ने जोरदार टक्कर मार दी जिसके बाद वो जमीन से 8 से 10 फ़ीट उछल कर सड़क के साइड में नाले के पास जाकर गिर गए। करीब आधे घंटे तक जब वह घर खाना खाने नही पहुँचे तो परिजन ढूंढने निकले तब सड़क किनारे उनका गमछा पड़ा मिला और तब हादसे का पता चला। परिजन उन्हें तुरंत निजी हॉस्पिटल लेकर गए जहाँ इलाज के दौरान डॉक्टर ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

परिजनों के मुताबिक मूल रूप से मुरैना के पोरसा जिले के रहने वाले गब्बर तोमर आर.आई. कि पोस्ट से रिटायर्ड थे।वही थाना तेजाजी नगर प्रभारी आर.एस. भदौरिया ने बताया गब्बर तोमर पैदल घर से निकले थे रिश्तेदार का घर सड़क के दुसरी तरफ है और अचानक हादसा हो गया। फिलहाल, पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है अज्ञात वाहन की खोज में जुट गई है।