ओमिक्रान इंदौर आ भी चुका होगा, कलेक्टर ने जताई आशंका, अपील की, रहे अलर्ट

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। इंदौर में भी ओमिक्रान आ चुका हो इस बात की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता। मुंबई, पूणे, जयपुर में ओमिक्रान के मरीज मिले हैं। विशेषज्ञों के अनुसार ओमिक्रान डेल्टा वैरिएंट के मुकाबले कई गुना ज्यादा तेजी से फैलता है। कोरोना की दूसरी लहर में मार्च की शुरुआत में संक्रमितों की संख्या बहुत कम थी लेकिन अप्रैल आते-आते स्थिति भयावह हो गई थी। इसलिए हमें अतिरिक्त सतर्कता बरतने की जरूरत है। इंदौर में 50 से 500 होने में समय नहीं लगेगा। सोमवार को बैठक में यह बात कलेक्टर मनीष सिंह ने कही। बैठक में नगर निगम कमिश्नर, जिला पंचायत CEO, सभी एडीएम, एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, नगर निगम के जोनल अधिकारी, मुख्य नगर पालिका अधिकारी, सीएमएचओ सभी जेड एम ओ, बी एम ओ, आर आर टी और सैंपलिंग टीमें मौजूद रहीं।

Gwalior News : पंचायत चुनाव से पहले हथियार खपाने आया तस्कर गिरफ्तार

 

कलेक्टर मनीष सिंह ने शहरवासियों से अलर्ट रहने और गाइड्लाइन कपालं करने की अपील की। उन्होंने कहा कि यह वक्त व्यवस्थाएं सुधारने का है। इधर कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रान की आहट के चलते स्वास्थ्य विभाग ने नए दिशा निर्देश जारी किए हैं। अब विदेश से आने वाले हर यात्री की एयरपोर्ट पर ही आरटीपीसीआर जांच होगी। इसकी रिपोर्ट छह घंटे में देना होगी। जब तक रिपोर्ट नहीं आती तब तक यात्री को एयरपोर्ट पर ही रुकना होगा। जिन यात्रियों की रिपोर्ट निगेटिव आएगी वे घर जा सकेंगे लेकिन उन्हें सात दिन तक होम क्वारेंटाइन रहना होगा। स्वास्थ्य विभाग उनकी सतत निगरानी करेगा। पॉजिटिव रिपोर्ट वाले यात्रियों को एयरपोर्ट से सीधे अस्पताल भेज दिया जाएगा। महाराष्ट्र, राजस्थान में ओमिक्रान के मरीज मिलने के बाद प्रदेश में सख्ती बढ़ा दी गई है। इंदौर में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट है। दुबई और अन्य जगहों से यहां सीधे उड़ान उतरती है। ऐसे में यहां अतिरिक्त सावधानी बरतने की जरूरत है।

मुम्बई के income tax assistant commissioner के साथ जबलपुर में फर्जीवाड़ा

अब विदेश से आने वाले हर यात्री की एयरपोर्ट पर ही आरटीपीसीआर जांच की जाएगी। रिपोर्ट अधिकतम छह घंटे में मिल जाएगी। जिन लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आएगी उन्हें सात दिन निगरानी में रखा जाएगा। जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आएगी उन्हें सीधे अस्पताल भेज दिया जाएगा। एयरपोर्ट पर विदेश से आने वाले यात्रियों की जांच की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग की तरफ से मुफ्त रहेगी।