50 लाख से ज्यादा केश पकड़ाया
50 लाख से ज्यादा केश पकड़ाया

इंदौर, आकाश धोलपुरे। MP उपचुनाव 2020 मतदान की तारीख नजदीक है लेकिन उसके पहले ही उपचुनाव के एपिसेंटर सांवेर में एक बड़ा धमाका हो गया है। दरअसल, इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र में अरविंदो हॉस्पिटल के पास से करीब 50 लाख 90 हजार रुपये नकद पकड़ाया है, जिसके बाद आशंका जताई जा रही है कि ये रुपए चुनावी चक्कर का मिश्रण है। फिलहाल, ये चुनावी नोट है या नहीं इसका खुलासा नहीं हो पाया है।

मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश के इटारसी में रहने वाले सोना चांदी के कारोबारी मोहन कुमार सोनी और उनके 2 साथी इतनी बड़ी रकम इंदौर लाये थे। लेकिन जब वो सांवेर की तरफ बढ़ रहे थे तब ही अरविंदो अस्पताल के समीप उन्हें एसएसटी की टीम ने चेकिंग दौरान धर लिया। जब टीम ने गहनता से पूछताछ और जांच की तो पता चला कि सराफा कारोबारी मोहन सोनी की कार में 50 लाख 90 हजार रुपए नगद रखे हुए है। लिहाजा, टीम ने रुपए और कार जब्त कर आगे की कार्रवाई के लिए मामला बाणगंगा पुलिस को सौंप दिया है।

इधर, पकड़े गए इटारसी के व्यापारी मोहन सोनी ने बताया कि वो रुपये इंदौर में अलग अलग सराफा कारोबारियों को देने आया था। लेकिन बाजार खुले न होने के कारण उसने उज्जैन में महाकाल दर्शन करने का सोचा और वो इसलिये उज्जैन जा रहा है। मोहन सोनी के मुताबिक वो व्यापारियों को नगद राशि देने आया था, लेकिन जब उससे पूछा गया कि इतनी बड़ी रकम आचार सहिंता के दौरान क्यों लाई गई तो मोहन सोनी ने जो जबाव दिया वो उसे ही सवालों के घेरे में खड़ा करता नजर आया। हालांकि, मोहन सोनी के हाव भाव ये भी समझ आया कि शायद वो नशे में था, जिसके बाद ये सवाल उठना भी लाजिमी है कि फिर क्यों वो उज्जैन महाकाल दर्शन के लिये जा रहा था।

इधर, पुलिस के माने तो कार्रवाई आज सुबह 9 बजे के लगभग की गई और नगदी को जब्त कर मामले की जानकारी आयकर विभाग को दे दी गई है। पुलिस के अनुसार प्रारंभिक तौर पर कोई भी ऐसे तथ्य सामने नहीं आये है कि रुपयों का चुनाव में कोई इस्तेमाल होना था। फिलहाल, पुलिस की तफ्तीश इस बड़े मामले में जारी है। वही आयकर विभाग ने भी इटारसी के कारोबारी से पूछताछ शुरू कर दी है।