पेस्ट कंट्रोल की दवाई का छिड़काव घर में करना पड़ा भारी, माँ और बेटी की मौत

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

सदर बाजार थाना क्षेत्र में रहने वाले परिवार के कुछ सदस्यों की जान उस वक्त आफ़त में पड़ गई जब पेस्ट कंट्रोल का नकारात्मक असर उनके परिवार पर पड़ गया और उसके बाद घटना में 35 वर्षीय माँ और 2 वर्षीय मासूम बेटी की मौत हो गई। वही इस से प्रभावित 2 अन्य लोगो का इलाज इंदौर के एक निजी अस्पताल में चल रहा है। बताया जा रहा है कि पेस्ट कंट्रोल का छिड़काव रंगपंचमी के दिन कराया गया था, ताकि घर मे रखे फर्नीचर को दीमक से मुक्ति मिल जाये। कल रात अचानक घर के पहले माले पर स्थित कमरे में जब चार लोग सोने गए इस दौरान एसी भी चालू कर दिया। जिसके बाद दवा के छिड़काव के चलते रेशमा पति शादाब शेख की और उसकी 2 साल की बेटी की मौत दम घुटने के चलते हो गई।

मृतक माँ और बेटी के करीबियों की माने तो हादसे की वजह से मौत हुई है और इसका कोरोना वायरस से कोई लेना देना नही है और ऐसे में पुलिस और प्रशासन को हर वो जानकारी परिजनो द्वारा दी जा रही है। जिसकी जरूरत प्रशासन को है। हादसे से प्रभावित हुए परिजनों के क़रीबी मोहम्मद यूसुफ़ खान की माने तो कोरोना के लिए एहतियात के तौर पर कदम उठाया गया था और फर्नीचर में लगी दीमक को हटाने के लिए रंगपंचमी के दिन पेस्ट कंट्रोल करवाया था और कल रात को बच्चे अचानक उसी कमरे में सोने चले गए जिसके बाद यह घटना सामने आई।

सदर बाजार थाना क्षेत्र की इकबाल कालोनी में सामने आई घटना की जांच में पुलिस जुट गई है। और मृतक माँ और बेटी को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया गया है। हालांकि, अचानक एक बड़ी चूक के चलते ये हादसा हुआ है। जिसे कोरोना वायरस से जोड़कर देखा जा रहा था, लेकिन अब तक मामले में किसी भी तरह से कोरोना वायरस की पुष्टि नही हुई है लिहाजा, पुलिस भी बारीकी से पूरे मामले की जांच में जुटी हुई है।