इंदौर पर है पितृदोष का साया- कैलाश विजयवर्गीय

This-poster-in-discussion-after-BJP's-bumper-victory-in-mp

आकाश धौलपुरे/इंदौर। बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि इंदौर पर पितृदोष है। यो बयान उन्होने शुक्रवार को मीडिया से बातचीत के दौरान दिया जिसके बाद एक नई बहस ने जन्म ले लिया है।

विजयवर्गीय ने कहा कि इंदौर के विकास के संबंध में उन्होंने वास्तु विशेषज्ञों से जानकारी ली थी तब  उन्हें बताया गया कि कहा था कि इंदौर पर पितृ दोष का साया है। ये बयान उस वक्त आया है जब पितृ पर्वत स्थित पितरेश्वर हनुमान मंदिर और प्रतिमा के प्राण प्रतिष्ठा आयोजन की शुरुआत हुई है। विजयवर्गीय की मानें तो इंदौर में मध्यप्रदेश की ही नही देश की सबसे बड़ी हनुमान प्रतिमा की स्थापना पितरेश्वर हनुमान धाम पर हो गई है और मिनी कुंभ की तर्ज पर प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी। 19 दिवसीय आयोजन की शुरुआत शुक्रवार से हो चुकी है और 23 फरवरी से इंदौर में कई साधु-संत महात्मा साधना करेंगे। 24 फरवरी को एक भव्य कलश यात्रा निकाली जाएगी जिसमे एक लाख महिलाएं शामिल होंगी जो विद्याधाम मंदिर से 7 किलोमीटर दूर पितरेश्वर धाम तक कलश लेकर जाएंगी। इसके साथ ही उनका दावा है कि 3 मार्च को विश्व का सबसे बड़ा भंडारा भी इंदौर में होगा, जहां नगर भोज मे समस्त इंदौरवासी आमंत्रित रहेंगे।

पितृदोष पर दिया ये जवाब

इधर, पितृ दोष मामले में उन्होंने कहा कि पितृ पर्वत पर इंदौर के नागरिकों ने पितरो की याद में 1 लाख से ज्यादा पेड़ लगाए है और लोगो की भावनाएं पितृ पर्वत से जुड़ी हुई हैं। पितृदोष पर उनका कहना है कि इसके चलते शहर का समुचित विकास नहीं हो रहा है। साथ ही उन्होने कहा कि पितृपर्वत बनने के बाद ये दोष दूर हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here