इंदौर में रहवासी चोरों से त्रस्त, खुद करने लगे रात में गश्त

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इसे लोगों की जागरूकता कहें या फिर पुलिस की रात्रि गश्त की नाकामी, क्योंकि इंदौर में अब रहवासियों को खुद ही हाथो में डंडे लेकर खुद अपनी रक्षा का जिम्मा संभालना पड़ रहा है। शहर में आये इस मामले ने एक बार फिर ये सवाल उठा दिया है कि क्या आर्थिक राजधानी पूरी तरह से महफूज है।

दरअसल, पुलिस की नाकामी की ये दास्तां शहर के ओमेक्स सिटी इलाके की है। 5 किलोमीटर के इलाके में फैली ओमेक्स सिटी में पुलिस के अधिकारी भी रहते हैं। बावजूद इसके, पिछले एक महीने में यहाँ चोरों ने 5 चोरियों को अंजाम देकर लोगो का जीना मुहाल कर रखा है। हाल ही में क्षेत्र में रहने वाले रेलवे के रिटायर्ड टीटी विजय सिंह कौशल अपने बेटे को परीक्षा दिलाने भोपाल गए थे, तब ही चोरों ने उनके घर पर धावा बोल दिया। बता दें कि ओमेक्स सिटी के अधिकांश सीसीटीवी कैमरे बन्द पड़े है और यहां सुरक्षा गार्ड केवल नाम के लिए ही हैं। लिहाजा, अब रहवासियों ने हाथो में डंडे लेकर चोरों से दो-दो हाथ करने का मन बना लिया और रहवासी रात में बारी-बारी से पहरा देते हैं।

लोगो के द्वारा की गई इस कोशिश की एक तरफ तारीफ हो रही है लेकिन पुलिस की रात्रिकालीन गश्त पर सवाल उठ रहे है इसी वजह से चोरों के हौंसले बुलंद है। फिलहाल, पुलिस पर कई सवाल 5 दफा चोरी को लेकर उठ रहे हैं।