बड़े भू माफियाओं से ताल्लुक रखने वाले निकुल कपासी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

निकुल कपासी का एक सहयोगी महावीर जैन पिछले दिनों पुलिस की गिरफ्त में आया था।

इंदौर, आकाश धौलपुरे। भूमाफिया चंपू अजमेरा का चमचा, हैप्पी धवन का दायां हाथ और महावीर जैन का वीर बहुचर्चित भूमाफिया अब इंदौर पुलिस की गिरफ्त में है। दरअसल, इंदौर (indore) की बाणगंगा पुलिस ने एक ऐसे भूमाफिया को गिरफ्तार किया है जिसने गरीबों को उनके नए आशियाने का सपना दिखाकर प्लाट के एवज में लाखों रुपये ऐंठ लिए और जब प्लाट देने की बात आई तो उसने मुंह मोड़ लिया और गरीबों की गाड़ी कमाई को धोखाधड़ी कर लूट ली। बताया जा रहा है कि इंदौर के बाणगंगा सहित अन्य कई थानो में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामले दर्ज किये थे जिसकी तलाश लंबे समय से पुलिस कर रही थी।

यह भी पढ़े…ऑटोमोबाइल मार्केट में होगी Xiaomi की एंट्री, अपनी पहली इलेक्ट्रिक कार से जल्द हटाएगा पर्दा, जानें पूरा प्लान

मिली जानकारी के मुताबिक इंदौर के बाणगंगा थाना क्षेत्र स्थित कालिंदी गोल्ड सिटी के भूमाफिया चंपू अजमेरा और हैप्पी धवन का कामकाज संभालने वाला निकुल कपासी (Nikul Kapasi) को बाणगंगा पुलिस ने बुधवार की रात गिरफ्तार कर लिया है। वही निकुल कपासी का एक सहयोगी महावीर जैन पिछले दिनों पुलिस की गिरफ्त में आया था।

बड़े भू माफियाओं से ताल्लुक रखने वाले निकुल कपासी को पुलिस ने किया गिरफ्तार

यह भी पढ़े…Jabalpur News : जिला कोर्ट के वकील काम बंद हड़ताल पर, ये है इसकी वजह

बता दे कि पकड़े गए भूमाफिया निकुल कपासी पर प्लाटों की धोखाधड़ी सहित कई मामले बाणगंगा और लसूड़िया थाने में दर्ज है। पिछले कई महीनों से निकुल कपासी को भूमाफिया चंपू अजमेरा और महावीर जैन फरारी के दौरान सहयोग कर रहे थे।हालांकि, महावीर जैन पहले से जेल में बंद है वही पकड़ा गया। वही भूमाफिया निकुल कपासी पर आरोप है कि उसके द्वारा गरीबो से प्लाट के रुपये लेने के बावजूद एक ही प्लॉट को कई लोगो को बेच दिया था। एडिशनल डीसीपी राजेश रघुवंशी ने बताया कि बाणगंगा पुलिस निकुल से प्लाटो की धोखाधड़ी के मामले में पूछताछ कर रही है और मंगलवार रात को पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया है।