पति के व्हाट्सएप मैसेज के बाद पुलिस ने किया पत्नी को सरप्राइज़

इंदौर/आकाश धोलपुरे

पुलिस को इस महामारी में जहा कोरोना योद्धा कहा जा रहा है वही पुलिस जवानों और अधिकारियो द्वारा ऐसे कार्य भी किये जा रहे हैं जिसके चलते हर एक कि नजर में खाकी वर्दी की इज्जत और भी बढ़ गई है और हर कोई पुलिस को सेल्यूट कर रहा है। दरअसल, कोरोनाकाल में आम जनता के सामने पुलिस का एक अलग रुप सामने आ रहा है। पुलिस संकट के समय लॉक डाउन का पालन कराने की ड्यूटी के साथ ही आम लोगो की खुशियों और परेशानियों को समझकर हर सम्भव मदद करने की कोशिश में जुटी हुई है ताकि आम जनता के चेहरे और खुशी बरकरार रह सके और उसे कोई परेशानी का सामना न करना पड़े।

आम जनता की खुशियों से जुड़ा एक मामला किशनगंज थाना क्षेत्र में सामने आया है जहां रहने वाले रंजीत सिंह ने राऊ टीआई को व्हाट्सएप पर बुधवार सुबह एक संदेश भेजा। जिसमें उन्होंने बताया कि वो अस्पताल ने ड्यूटी के चलते व्यस्त है और आज उनकी पत्नी का जन्मदिन है ऐसे में पुलिस उनके जन्मदिन को यादगार बनाने में मदद करे। पति ने घर पर मौजूद गर्भवती पत्नी की जानकारी के साथ ही पुलिस को एड्रेस भी उपलब्ध कराया।

अपरिचित नम्बर से आये संदेश के बाद राउ टीआई दिनेश वर्मा ने अपनी टीम को संदेश की जानकारी दी। इसके बाद इंदौर की राऊ पुलिस अपने पुलिस वाहनों को गुब्बारों को सजाने में जुट गई और फिर महू के किशनगंज थाना क्षेत्र में स्थित आयुष्मान रेसीडेंसी में पहुंची और यहां ड्यूटी से लौटे पति रंजीत और पत्नि करुणा शिरोमणि को अपार्टमेंट के गेट पर बुलवाया। रंजीत नामक युवक की पत्नी करुणा पुलिस के इस सरप्राइज को देखकर चौंक गई, जिसके बाद राऊ टीआई और उनकी टीम द्वारा लाये गए बर्थ डे केक को निकाला गया और बाकायदा केक भी कटवाया गया। इस बीच छत पर खड़े सभी रहवासियों ने ताली बजाकर शुभकामनाएं दीं वही टीआई व अन्य पुलिसकर्मियों ने महिला को केक खिलाकर बधाई भी दी। करुणा शर्मा नामक महिला ने लॉक डाउन के बीच पुलिस की पहल की सराहा और अपने इस जन्मदिन को स्पेशल बताया। वही दूसरी ओर पुलिस ने भी दूसरों की बांटी जा रही खुशियों को अपनी खुशी बताया। बता दे कि कुछ दिन पहले डीआईजी इंदौर ने ठाणे में रहने वाले युवक के ट्वीट पर उसके बुजुर्ग माता पिता की सालगिरह की खुशी को इसी तरह से दोगुना किया था।