कमलनाथ ने किया इंदौर डीआईजी रुचि वर्धन का सम्मान

आकाश धौलपुरे/इंदौर। मुख्यमंत्री कमलनाथ (cm kamalnath) ने शनिवार को आयोजित एक कार्यक्रम में इंदौर में बेहतर कानून व्यवस्था और और अपराधों पर नियंत्रण रखने के लिए इंदौर डीआईजी (DIG) रुचि वर्धन मिश्रा का सम्मान किया।

कम समय में ही अपनी कार्यशैली के चलते रुचि वर्धन ने इंदौर में एक अपनी अलग पहचान बना ली है और शोषित और पीड़ित वर्गों के लिए किए गए उनके कार्यों को हर स्तर पर सराहा जाता है। 2006 बैच की आईपीएस टॉपर और अचूक निशानेबाज रूचि वर्धन सतना जिले की रहने वाली हैं। वे होशंगाबाद, राजगढ़ में एसपी और भोपाल में एएसपी रह चुकी हैं। भोपाल में वे सातवीं बटालियन में कमांडेंट भी रही। 2006 में दिल्ली की जेएनयू यूनिवर्सिटी से एमएऔर एमफिल पढ़ाई करने के बाद यूपीएससी परीक्षा में उन्होंने 67 वी रैंक प्राप्त की। वे हैदराबाद ट्रेनिंग सेंटर में अकादमी की बैच ऑफ टॉपर का अवार्ड ट्रॉफी विजेता की रही और ऑफिसर मीट में हुई शूटिंग कंपटीशन में उन्हें 10 में से 10 नंबर मिले थे। भोपाल में उन्होंने गैंगरेप के अलग-अलग दो मामलों में 12 लोगों को सजा दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। वर्तमान में भी वे इंदौर शहर में मुख्यमंत्री कमलनाथ के माफिया के खिलाफ अभियान को तेजी के साथ अमल में ला रही हैं।