सज्जन वर्मा ने भाजपा पर बोला हमला, कई विधायकों के संपर्क में होने का किया दावा

इंदौर| प्रदेश कांग्रेस के दिग्गज नेता और मंत्री सज्जन सिंह वर्मा ने मंगलवार को बीजेपी पर जमकर निशाना साधा। वर्मा ने ना सिर्फ केंद्र पर सवाल उठाया बल्कि सोमवार को बीजेपी द्वारा किये गए आंदोलन पर भी सवाल उठाए। मंत्री वर्मा ने सबसे पहले कहा कि झाबुआ उपचुनाव जीतने के बाद कांग्रेस मजबूत हुई है| वही एक बड़ा खुलासा करते हुए उन्होंने कहा कि 5 से 6 और भी विधायक हमारे सम्पर्क में है। इसके साथ ही उन्होंने बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव के खिलाफ पेंशन घोटाला, बिजली के बिल सहित अन्य मुद्दों पर तंज कसा। 

बीजेपी द्वारा दिये गए धरने पर कहा कि उन्हें केंद्र सरकार के खिलाफ धरना देना चाहिए ना कि प्रदेश सरकार के खिलाफ क्योंकि केंद्र संघीय ढांचे का पालन नही कर रही है और किसानों के मुआवजे की मांगी गई राशि जल्द नही मिलती है तो प्रदेश सरकार दिल्ली में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर धरने पर बैठेगी। वही उन्होंने कहा कि राहुल गांधी गुजरात के ज्वाला मन्दिर में जाते है तो बीजेपी के तकलीफ होती है वही सोनिया गांधी मन्दिर में खड़ी हो जाये तो बीजेपी को तकलीफ, राहुल गांधी मन्दिर में दर्शन कर जनेऊ धारण करे तो भी भाजपा को परेशानी है| क्या विदेश में कोई अपने बिजनेस के लिए नही जा सकता है। 

भूरिया बने पीसीसी अध्यक्ष 

इधर, वर्मा ने प्रदेश अध्यक्ष के सवाल पर कहा कि पहले वो मंत्री बाला बच्चन के समर्थन में थे वही अब मै चाहता कि भूरिया वरिष्ठता के आधार पर प्रदेश के अध्यक्ष बने। इधर, सिलावट के जनमदिन पर पोस्टर पर मचे घमासान पर वर्मा ने कहा कि कमलनाथ ने कैबिनेट में कहा था चाहे मेरा पोस्टर हो या फिर किसी ओर का प्रोटोकॉल के तहत नही लगाया जाएगा। इतना ही नही उन्होंने अंडों पर सियासत करने वाली बीजेपी पर निशाना साधा और कहा कि बीजेपी नेता खुद चिकन खाते है और अंडों पर सवाल उठा रहे है जबकि अटल बिहारी वाजपेयी भी चिकन खाते थे। इंदौर में चल रहे लड़कियों के संभागीय टूर्नामेंट में अव्यवस्था पर वर्मा ने कहा उन्हें तत्काल एक निजी स्कूल में  शिफ्ट करने के आदेश इंदौर कलेक्टर को दिए है।