स्वच्छता सर्वेक्षण 2020: चाैका लगाने से बस एक कदम दूर इंदौर

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

 मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी, मध्यप्रदेश का मिनी मुंबई, मालवा की धार्मिक और सांस्कृतिक राजधानी इंदौर अब एक नई पहचान के लिए फिर से तैयार है और हो सकता है अब आने वाले 2020 में इंदौर को मध्यप्रदेश की स्वच्छता राजधानी का दर्जा मिल जाए दरअसल, स्वच्छता के सर्वेक्षण की ताजा तिमाही रिपोर्ट तो ये ही कह रही है कि अंतिम परीक्षा के पहले ही इंदौर देश के स्वच्छ शहरों में नम्बर 1 की रैंक पर काबिज है। स्वच्छता के क्वाटर्ली सर्वेक्षण रिपोर्ट में इंदौर ने फिर पहले नंबर पर कब्जा जमाया है। क्वार्टर-1 अप्रैल-मई-जून और क्वार्टर-2 जुलाई-अगस्त-सितंबर के स्वच्छता सर्वेक्षण के रिजल्ट आ गए हैं और इसके परिणाम भी इंदौर को नए साल की सौगात देते नजर आ रहे है। बता दे स्वच्छता सर्वेक्षण 6000 नंबरों का है, जिसमें 200 नंबर क्वार्टर याने की तिमाही के है जिसमे इंदौर नम्बर 1 पर आया है। पहली और दूसरी तिमाही के परिणाम के बाद ना सिर्फ निगमकर्मियों का हौंसला बढ़ा है बल्कि शहरवासियों का उत्साह भी चरम पर है और अब सभी निगम के साथ मिलकर आगामी 4 से 31 जनवरी 2020 तक स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 के लिए कमर कसकर तैयार हो गए है ताकि इंदौर नेक इरादों और समर्पण के साथ देश मे फिर से नम्बर 1 आकर स्वच्छता की हैट्रिक के बाद चौका लगा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here