स्कूल शिक्षिका ने सातवीं की छात्रा को मारी स्केल, घायल हुई

इंदौर।आकाश धौलपुरे।

 तेजी से बढ़ते इंदौर में शिक्षा के आधुनिकरण के तमाम प्रयास समय – समय पर सरकार द्वारा किये जाते है और इसी के चलते सरकारी विद्यालयों के साथ ही निजी विद्यालयों को भी एक नई दिशा दी जा रही है लेकिन आज भी निजी विद्यालयों के शिक्षकों द्वारा कुछ ऐसा किया जा रहा है जो शिक्षा के क्षेत्र में बदनुमा दाग लगाने के लिये काफी है।

दरअसल, मंगलवार को इंदौर के तिलक नगर क्षेत्र में स्थित श्री कृष्ण पब्लिक स्कूल की सातवीं कक्षा की छात्रा पर स्केल फेंक कर उसे घायल कर दिया जिससे बच्ची को गंभीर चोट आई है अब पुलिस मामले में जांच कर रही है। घटना तिलक नगर क्षेत्र स्थित श्री कृष्ण पब्लिक स्कूल की है जहां पर छठवीं कक्षा में पढ़ने वाली चेरी चौधरी के साथ उन्हें पढ़ाने वाली टीचर ने अभद्र व्यवहार किया है। छात्रा में परिजन अमरदीप चौधरी ने बताया कि घटना आज सुबह 10 बजे की और विज्ञान के पीरियड के दौरान राधा श्रीवास ने स्केल फेंकी जिससे चेरी के सिर पर गम्भीर चोंट आई है। 

वही परिजनों की माने तो स्कूल प्रबंधन ने घटना के बाद तबीयत खराब होने की सूचना दी और जब हम स्कूल पहुंचे तो प्रबंधन ने सहपाठियों के साथ वाद विवाद की बात कही। स्कूल प्रबंधन पर सवाल उठाते हुए छात्रा के पिता अमरदीप चौधरी ने आरोप लगाया कि अयोग्य लोगो को शिक्षक बना दिया जाता है। छात्रा के पिता ने इस मामले में उन्होंने स्कूल प्रबंधन और शिक्षा विभाग को भी शिकायत दर्ज कराई है साथ तिलक नगर थाने पर भी आवेदन दिया है। 

इधर,पूरी घटना के बाद स्कूल प्रबंधन ने मामले में पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है वहीं पुलिस ने शिकायत पर जांच करने का आश्वासन दिया है। हालांकि ऐसी कई घटनाएं पहले भी सामने आ चुकी है लेकिन ऐसे मामलों के सामने आने के बाद निजी स्कूल महज टीचर को हटाकर अपने दायित्व से मुक्त हो जाता है क्योंकि निजी स्कूल प्रबंधन को मोटी फीस वसूलने से फुरसत नही होती है ऐसे में बच्चो की सुरक्षा भगवान भरोसे ही रहती है।